Benefits of 9 Mukhi Rudraksha – Mantra – नव मुखी रुद्राक्ष

By | December 9, 2015

There are several benefits of 9 mukhi rudraksha that help to cure disease and help to reach success. Janiye नव मुखी रुद्राक्ष के फायदे, मंत्र (mantra), धारण करने का समय इत्यादि विस्तार में | 9 मुख वाले रुद्राक्ष में माँ दुर्गा के नौ रूप का व्याख्या होता है । इस रुद्राक्ष को पहनने वाले के ऊपर माँ दुर्गा की कृपा सदा बनी रहती है । सही दिन, सही समय और सही तरीके से इसे धारण करने से मनुष्य को कई लाभ होते है । इसे धारण करने वाले को कई सावधानिय भी बरतनी पार्टी है ।

9 Mukhi rudraksha benefits explained

9 मुखी रुद्राक्ष के फायदे / Benefits of 9 Mukhi Rudraksha

Agar aap sahi tarike se nav mukhi rudraksha ko dharan kar ke accha karma karte hai to iske kai benefits aur labh aapko najar aa sakte hai. Niche diye gaye main benefits hai 9 mukhi rudraksha wear karne ke:

  • यह मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र यानि की nervous system के समारोह को नियंत्रित करता है।
  • नौ मुखी रुद्राक्ष पहनने के लिए सफलता की प्राप्ति होती है।
  • नौ मुखी रुद्राक्ष को विक्षिप्त विकार(neurotic disorder) का एक अच्छा इलाज कहा जाता है।
  • यह राहु ग्रह के अशुभ प्रभाव को कम करता है ।

9 मुखी रुद्राक्ष किसे पहनना चाहिए / Who should wear 9 Mukhi Rudraksha

Jin logon ko hamesha fever, eyes pain, internal fear ya skin diseases rahta ho unhe khas kar nav Mukhi Rudraksha ko dharan karna chahiye.

  • जिसे फेफड़े का रोग या त्वचा का रोग हो ।
  • जिसे हमेशा बुखार, body में दर्द , आँखों में दर्द रहता हो रुद्राक्ष पहनना चाहिए ।
  • जिनको दुश्मनों से खतरा हो ।
  • जिसे हमेशा कोई ना कोई मुसीबते परेशान करती हो ।
  • जिन्हें हमेशा भुत परेत का डर लगा रहता है, आदि ।

9 मुखी रुद्राक्ष धारण करने का दिन,समय  / Good time and date to wear 

  • 9 मुखी रुद्राक्ष को आप पूर्णिमाके दिन , संक्रांतिके दिन या फिर ग्रहण के दिन भी धारण कर सकते है ।
  • श्री यन्त्र पूजा के वक़्त 9 मुखी रुद्राक्ष को पहनने से सुख, समृद्दी हांसिल होती है।
  • 9 मुखी रुद्राक्ष को बाएँ हाँथ (left hand)  पर धारण करना चाहिए ।

9 मुखी रुद्राक्ष धारण करने का मंत्र / Mantra for 9 Mukhi Rudraksha

नौ शक्तियों की प्राप्ति हेतु 9 मुख वाले रुद्राक्ष को हाँथ में पहनने वक़्त इस मंत्र को पढ़ना चाहिए:

।।ॐ ह्रीं हूं नमः।।

सावधानियां / Precaution

9 मुखी रुद्राक्ष में माँ दुर्गा के 9 रूप होते है इसलिए इसे अपने शरीर पर धारण करने के बाद मांस मछली, लहसुन प्याज , शराब आदि का सेवन नहीं करना चाहिए ।

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *