About National Flower of India, Esaay & Facts – राष्ट्रीय फूल

By | December 14, 2016

जैसा की हम सभी जानते है की भारत का राष्ट्रीय फूल और कोई नहीं बल्कि कमल है, जिसे Scientific नाम Nelumbo Nucifera है और English में Lotus बोला जाता है | Do you kids know about the National Flower of India in own Hindi language? A detailed essay and interesting facts – जानिए हमारे राष्ट्रीय फूल के बारे में | यह राष्ट्रीय फूल देखने में काफी सुन्दर होता है जो की white और pink color के combination में होता है |

Lotus is India national flower

National Flower of India =  Lotus

भारत का राष्ट्रीय फूल = कमल का फूल

“कमल” के फूल को राष्ट्रीय फूल का दर्जा दिया गया है। कमल के बारे में बहुत सी कहावतें तथा  religious beliefs भी हैं। कहा जाता है की कमल के फूल में लक्ष्मी जी का वास होता है और कई भगवानो ने इस फूल को अपना आसन भी बनाया है । यही नहीं शास्त्रों के मुताबिक दुर्गा माँ की पूजा में भी कमल के फूल का use किया जाता है । भारतीय संस्कृति के मुताबिक कमल के फूल को बहुत हीं पवित्र, पूजनीय, शांति, तथा बुराइयों से मुक्ति का Symbol माना गया है। lotus अपनी खूबसूरती के लिए सबसे ज्यादा femous होता है । ये फूल कीचड़ वाले तालाब में पानी के ऊपर  खिलता हैं।  हिन्दू धर्म के अलावा और भी कई धर्मो में कमल के फूल का religious और  cultural महत्व बताया गया है । यही वजह है की कमल के फूल को national flower of India का गौरव प्राप्त हुआ है ।

Lotus the national flower of India

Essay on National Flower of India

कमल के फूल को अलग अलग भाषाओँ में अलग अलग नामो से जाना जाता है जैसे “Sanskrit” में इसे कमल, पद्म, सरसिज, नीरज, अंबुज, तामरस, वनज आदि कहते है । “फारसी भाषा” में कमल के फूल को ‘नीलोफ़र’ कहा जाता हैं। English में lotus और Chinese में इसे वाटर-लिली या फिर ईजिप्शियन कहते है ।

कमल के फूल का पौधा पानी में ही होता है। ये फूल भारत के साथ Iran और Australia में भी पाया जाता है। कमल का पौधा बहुत ही धीमी गति से बहने वाले या फिर तालाब के पानी की तरह ठहरे हुए पानी में उगता है। कमल का पत्ता पानी के ऊपर हीं रहता है । इसके पत्तों की लंबी डंडियों से एक तरह का रेशा निकलता है जिससे दिये की बत्तियाँ बनाई जाती हैं। पत्तो के इस रेशे से कपड़े भी बनाया जाता है जिसे पहनने से कई तरह के रोग दूर हो जाते हैं। इस फूल के तने काफी लंबे, straight व खोखले होते हैं जो की पानी के नीचे कीचड़ में चारों तरफ फैल जाते हैं।

इसे भी जाने – which is the national bird of India और national tree of India – बच्चो को इसे जरुर बढ़ना चाहिये |

आमतौर पर कमल का फूल white और pink color का होता है और इसके पत्ते गोल व ढलाव जैसे होते हैं। बहुत से जगहों पर white और pink के अलावा red, yellow और blue color के भी कमल के फूल देखे गए हैं। लेकिन राष्ट्रीय फूल का दर्जा केवल pink कमल को हीं दिया गया है । Red color के कमल के फूल भारत के लगभग सभी States में मिलता है। white कमल ज्यादातर काशी शहर के निकट पाए जाते है । white कमल को शतपत्र, सीतांबुज आदि कई नामो से जाना जाता है । Blue(नीला) कमल अधिकतर कश्मीर व चीन में होता है। yellow  कमल के फूल अमेरिका, जर्मनी के अलावा आदि कई देशों में पाया जाता है। एशियाई कमल का फूल हमेशा pink color के होते है ।

इसके अलावे माँ लक्ष्मी पर कमल का फूल चढाया जाता है | कमल का फूल चैत बैसाख से लेकर सावन भादों तक खिलता है। इस फूल की smell भौंरे को बहुत पसंद होती होती है। मधुमक्खियाँ भी इसके रस से मधु बनाती हैं ।

Facts about Lotus Flower / कमल फूल से जुड़े तथ्य

  1. कमल का फूल ऊंचाई में केवल 49 इंच तक हीं पहुँच सकता है लेकिन चौड़ाई में ये 10 फीट तक फैल सकता है ।
  2. कमल का फूल सुबह के time में खील जाता है और रात होते हीं ये बंद हो जाता है।
  3. कमल का फूल long time तक जीवित रह सकता हैं । यही नहीं लंबी अवधि तक नहीं खिला हुआ कमल दोबारा पुनर्जीवित हो जाता है ।
  4. कमल के सूखे पुंकेसर को चाय की तैयारी के लिए उपयोग किया जाता है।
  5. कमल के फूल की पत्तो पर जल का एक बूँद भी नहीं ठहरता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *