After Delivery Healthy Diet Chart – गर्भावस्‍था के बाद खान पान

By | September 4, 2017

हर मा के लिए diet chart follow करना काफी जरुरी है फिर चाहे वह normal हो या cesarean delivery. आइये जानते है प्रसव के बाद क्या खाए को की Indian style में हो | जब एक स्त्री माँ बनती है तो उसके ऊपर दो लोगो की जिम्मेदारियां आ जाती है एक खुद की देखभाल और दूसरा अपने बच्चे की देखभाल । जिस तरह से pregnancy के समय महिलाओं को खुद का care करना होता है उसी तरह से delivery के बाद भी उन्हें अपना बहुत ख्याल रखना पड़ता है । या फिर ये कहे की delivery के बाद महिलाओं को पहले से ज्यादा खुद का ख्याल  रखना होता है, क्योंकि उन्हें खुद के साथ साथ अपने बच्चे का भी खान पान का ख्याल रखना होता है। एक नवजात शिशु का पूरा का पूरा खान पान उसकी माँ के खान पान पर हीं depend करता है।

after pregnancy food chart in hindi

गर्भावस्‍था  के बाद एक महिला का शरीर बहुत ही कमजोर हो जाता है साथ हीं उसकी लाइफस्टाइल में भी बहुत बदलाव आ जाता है जिसके लिए उन्हें काफी energy की आवश्यकता होती है । फिर चाहे वह normal हो या cesarean delivery, एक माँ को अपने खान पान में बहुत ज्यादा ध्यान देना चाहिए । प्रसव के बाद हर महिला को Vitamins, Calories और Proteins से भरा आहार लेना चाहिए ताकि उनके शरीर को energy मिल सके और वो अपने बच्चे का भी ख्याल अच्छे से रख सके। delivery के बाद यदि एक माँ अपने खान पान का ध्यान अच्छे से रखती है तो वो अपने बच्चे को भी सही पोषण प्रदान कर सकती है ।

After Pregnancy Food Chart  / प्रसव के बाद खान पान

तो आइये जानते है प्रसव के बाद  महिला को क्या क्या खाना चाहिए ताकि body जल्दी recover हो सके । यदि delivery के बाद हमारे बताये गए Indian style diet chart को एक माँ अच्छे से follow करती है तो वो अपना और अपने बच्चे का अच्छे से ख्याल रख सकती है ।

अंडा (egg) :- प्रसव  होने के बाद रीर में सबसे ज्यादा Protein की कमी हो जाती है इसलिए उन्हें सबसे ज्यादा Protein युक्त आहार लेना चाहिए । Egg में सबसे ज्यादा Protein होता हैं इसलिए महिलाओं को हर रोज breakfast में कम से कम एक boil अंडा जरुर से खाना चाहिए । इससे उनके body से energy मिलती है साथ ही शरीर को vitamin D भी मिलती है ।


पालक (spinach) :- पालक यानि की spinach, इसमें iron की मात्रा बहुत अधिक पाई जाती है । इसके अतिरिक इसे vitamin A भी बहुत अच्छा श्रोत माना जाता है । सुबह के नाश्ते में आप पालक का juice ले इससे आपके शरीर में जो blood की कमी हुई होगी हो पूरी हो जाएगी । आप पालकसाग की सब्जी या फिर सलाद भी खा सकती है।

फल (fruits) :- एक normal डिलीवरी  के बाद महिलाओं को नाश्ते में ऐसे फलो का भी सेवन करना चाहिए जिसमे antioxidant की मात्रा अधिक पाया जाता हो जैसे की अनार , निम्बू, तरबूज आदि । आप चाहें तो सुबह के नाश्ते में दूध की चाय या फिर ग्रीन टी भी ले सकते है । 

भूरे रंग का चावल (brown rice) :- दोपहर के खाने में आप चावल के साथ मठ्ठा मिला कर खा सकते है । इससे माँ के शरीर को ताकत मिलती है। Brown rice में कई प्रकार के गुण होते है, इसमें calories बहुत कम होती है साथ हीं ये ग्‍लूटन फ्री भी होता है ।

पान (betel) :- दोपहर के खाना के बाद मुँह का taste change करने के लिए आप मीठा पान खा सकती हैं इससे आपके शरीर को mineral मिलती है साथ हीं रात को नींद भी अच्छी आती है ।

मांस-मछली :- protein नए cell tissues के विकास में सहायता करते हैं और शरीर के विभिन्न उपचार प्रक्रिया में सहायता करते हैं | protein युक्त समृद्ध पदार्थ सर्जरी के बाद tissue की मरम्मत और मांसपेशियों में शक्ति को बनाए रखने में सहायता करती हैं अगर आप मांसाहारी है तो आप मछली और chicken को अपने diet plan में शामिल कर सकत हैं ।

सूप (soup) :- शाम को अगर आपको भुख महसूस हो रहा हो तो आप tomato या vegetable सूप ले सकते है । शाम को हो सके तो हल्का व्यायाम भी करें और साथ हीं रोजाना शाम को walking पर निकले । walking कर के आने के बाद हो सके तो नारियल पानी का सेवन करे । इसके अलावा रोजाना अपनी diet में बादाम यानि की almonds के 3 दाने को add कर लें ।

अनाज :- रात के खाने में आप गेहूँ के आटे की रोटी, कोई भी हरी सब्ज़ी, दाल का पानी या दाल ले सकते है। आप रोटी को दूध में भी डाल सकते है । इससे आपके बच्चे को भी सही पोषण मिलता हैं। खाने के साथ साथ पानी भी अधिक पीयें ।

दूध (milk) – दूध के सम्पूर्ण आहार है, इसमें vitamin D, B और protein होता है इसके अलावा दूध में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते है जो नवजात शिशु के विकाश के लिए बहुत ही आवश्यक होता है | रात को सोने से पहले एक glass दूध का सेवन कर के हीं सोना चाहिए । दूध (milk) में vitamin D और calcium पाया जाता है जो की माँ के हड्डियों को strong बनाता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *