AIDS Meaning in Hindi – इसके लक्षण, और उपचार

By | September 28, 2016

Janiye AIDS meaning in Hindi, यह क्या होता है, इसका मतलब और full form पुरे विस्तार में | इसे HIV भी बोला जाता है – इसके होने के कारण, लक्षण और उपचार पढ़े | यह असल में एक तरह का घातक बीमारी है जिसके कारण हर साल कई हजारो लोग मारे जाते हैं | तो चलिए जानते है AIDS की जानकारी और इससे जुडी कुछ अन्य details के बारे में |

AIDS ka full form in Hindi aur matlab

AIDS =  Acquired Immuno Deficiency Syndrome  

AIDS एक बीमारी है जो की HIV virus (Human Immunodeficiency virus) की वजह से होता है  | HIV virus immune system में T-cells पर हमला करता है, जो की मानव शरीर के immune system को कमजोर करता है | जब शरीर का  immune system कमजोर हो जाता है तो virus बैक्टीरिया और fungi शरीर पर हमला कर के हमारे शरीर में बिमारियों को पैदा करते है | यदि HIV का पता चलते ही उसका प्रारंभिक चरण में इलाज नहीं किया गया तो यह AIDS बीमारी को निमंत्रण देता है | यह एक फैलने वाला बीमारी है AIDS कई मायनों में व्यक्ति को व्यक्ति से फैलता है।

HIV Causes

HIV संक्रमण mainly तीन कारणों से होता है | यौन संपर्क(Sexual contact), शरीर के तरल पदार्थ (body fluid) और vertical transmission के माध्यम से यह virus फैलता है :

Sexual contact  / यौन संपर्क –  AIDS का मुख्य कारण Sexual contact है | किसी एक HIV संक्रमित व्यक्ति के साथ sexual intercourse होने से संक्रमण संचारित हो सकता हैं या फिर sexual intercourse के वक्त सही तरीके से protection नहीं लेने से भी HIV होने का chances रहता है |

Body fluid / तरल पदार्थ : शरीर के तरल पदार्थ HIV संक्रमण का दूसरा उच्चतम प्रमुख कारणों में से एक है | जो की हमारे blood और blood production के माध्यम से होता है | एक सुई को कई बार use करने से , संक्रमित रक्त के transfusion  से या संक्रमित इंजेक्शन का उपयोग करने से HIV संक्रमण का कारण बन सकता है | tattooing और piercing करवाना भी HIV virus से संक्रमित होने के उच्च कारणों में से एक है |

Vertical transmission : Vertical transmission HIV संक्रमण संचरण का तीसरा कारण है | यह आम तौर पर गर्भावस्था प्रसव या स्तनपान के दौरान होता है, और इसलिए बच्चे की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए महिलाओं को यह सिफारिश की जाती है कि वे गर्भावस्था के दरमियान HIV की जाँच कराए |

Prevention / रोकथाम

HIV वायरस के प्रसार को रोकने के लिए कई निवारक तथा उपाय उपलब्ध हैं | HIV virus के निवारक तथा उपाय के लिए दुनिया भर में जन जागरूकता का अभियान चलाया जाता  है | इसके बारे में जानकारी देने के लिए government द्वारा कई तरह के seminar का आयोजन किया जाता है, जहाँ AIDS से सम्बंधिद तथा उनसे बचाव के लिए कई तरह के सुझव दिए जाते है | इस शिवरों में जा कर HIV के prevention के बारे में पता किया जा सकता है |
HIV Prevention के लिए कुछ important बाते :

इसके अलावे अगर आप निचे बतालए गए उपायों को अपनाएंगे तो AIDS होने का खतरा काफी हद तक कम किया जा सकता है | तो चलिए जानते है की AIDS को कैसे रोका जा सकता है और इसके रोकथाम के उपाय :

  • HIV से बचने के लिए सबसे आम सुझाव यह दिया जाता है की किसी से भी संबंध ना बनाया करे, अपने partner के साथ हमेशा वफादार रहे |
  • सब भी आप संबंध बनाते है तो उस दौरान सही precaution ले | अगर आप सही precaution लेते है तो  80% तक HIV संक्रमण का खतरा कम हो जाता है |
  • एक Injections को सर एक ही बार इस्तेमाल करे | इस्तेमाल किए हुए Injections से दूसरों को inject नहीं करना चाहिए |
  • shaving करते वक्त used blade से shaving नहीं करना चाहिये | shaving के लिए एक blade को सिर्फ एक ही बार use करे |
  • Blood transfusion के वक्त blood donner तथा blood का HIV जाँच ज़रूर से करे |
  • गर्भावस्था के दौरान HIV की regular जाँच करना चाहिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *