Aniseed Meaning in Hindi and Benefits

By | September 3, 2016

Kya aap jante hai Aniseed Meaning in Hindi mein kya hota hai? Janiye iske health benefits aur fayde ke bare mein – आखिर Aniseed का क्या मतलब होता है | असल में यह एक काफी छोटा खाद्य प्रदार्थ होता है जिसे लगभग पूरी दुनिया में प्रयोग में लाया जाता है |

Aniseed meaning in Hindi

Aniseed = सौंफ

Aniseed यानि की सौफ यह एक तरह का मसाला है जो की खाने में मिठा होता है | यह अजवाइन के family से belong करता है | Aniseed का भारतीय नाम ‘Velaiti saunf’ है | सौफ एशिया माइनर, क्रेते और ग्रीस का मूलतः पाया जाता है, लेकिन अब गर्म और अनुकूल परिस्थितियों में भी दुनिया भर में इसे उगाया जाता है । सौफ के बिज में प्रोटीन, वसीय तेल, स्टार्च, अर्क और कच्चे फाइबर होता हैं | सौफ के बीज लोहा, मैग्नीशियम, कैल्शियम, मैंगनीज, जस्ता, पोटेशियम और तांबा जैसे खनिजों का बहुत अच्छा स्रोत हैं |

सौफ का पौधा झड़ियो की तरह होता है जो की कोमल पत्तियों के समान होता है, सौफ के फुल पीले रंग के होते है जो की देखने में बहुत से सुंदर लगते है | सौफ का पौधा ज्यादा बड़ा नहीं होता यह ऊंचाई में 75 cm तक बढ़ता है |

Aniseed Uses / सौफ का उपयोग

  • सौफ का इस्तेमाल आचार के मसाले के रूप में किया जाता है |
  • सौफ का इस्तेमाल सब्जियों के मसाले में खाने को जायकेदार बनाने के लिए किया जाता है |
  • सौफ का इस्तेमाल औषधि के रूप में किया जाता है |

Benefits of Aniseed / सौफ के फायदे

जैसा की हम सभी अपने daily life में सौंफ का उपयोग करते हैं पर कम ही लोग इसके फायदे के बारे में जानते है | तो चलिए आज आपको Aniseed के health benefits के बारे में बतलाते हैं :

साँस की बदबू को दूर करता है : सौफ हमारे साँस के बदबू को दूर करने में मदद करती है | सौफ में एक सुगंधित तेल होता है और साथ ही इसमें anti-bacterial और एन्टी इन्फ्लैमटोरी होते है जो की बदबू को दूर करने में मदद करती है | सौफ को रोजाना खाने के बाद चबाने से मुह में छिप्पे खाद्य पदार्थो को निकाल देता है और साँस की बदबू को दूर करता है |

मूह के छाले के लिए : सौफ मूह के छाले को भी ठिक करता है | 1 गिलास पानी में 30 से 40 ग्राम सौफ डाल कर पानी को उबाले, पानी को पूरा आधा सूखने तक उबाले अब इसमें हलकी भुनी हुई फिटकिरी को डाल कर इस पानी से कम से कम 2 बार गार्गल करने से मूह के छाले ठिक हो जाते है |

पेट के लिए फायदेमंद : सौफ हमारे पेट से related problem को दूर करने तथा दूर रखने में मदद करता है | रोजाना सौफ को खाने से कब्ज जैसे problem नहीं रहता है | सौफ और मिश्री को पिस कर इसका powder बना कर रोजाना सोने से पहले शुसुम पानी के साथ लेने से कब्ज तथा गैस की problem नहीं होती है |

खांसी ठीक करे : सौफ का काढ़ा बना कर इसमें शहद मिला कर दिन में 3 से 4 बार लेने से खाँसी दूर हो जाता है |

आँखों के लिए : सौफ हमारे आँखों के रौशनी को बढाने में मददगार साबित होता है | रोजाना खाने के बाद 1 चम्मच सौफ को खाने से हमारे आँखों को बहुत फायदा मिलता है, रात को सोने से पहले हलके गर्म दूध में सौफ के powder में मिश्री को मिला कर पिने से हमारे आँखों को बहित लाभ मिलता है |

Warning / सावधानी

सौफ के में बीज छोटी मात्रा में लाभदायक तेल होते हैं परन्तु  इसकी उच्च खुराक लेने से यह मादक गुणों को बढ़ा देता है जिसके कारण हल्का हल्का नशा सा लगने लगता है  | सौंफ छोटी मात्रा में उपयोग करने के लिए सुरक्षित है , लेकिन इसे बड़ी मात्रा में लेने से ingesting narcosis , संचार की समस्या और कोमा का कारण बन सकता है | सौफ का अनुचित प्रयोग करने से दौरे, लकवा, स्पष्टता की कमी और अन्य मानसिक समस्याओं का कारण बन सकता है |

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *