chess meaning in Hindi – चेस – Game Rules

By | December 5, 2017

Kya aap jante hai Chess game ka meaning kya hota hai Hindi mein? Janiye is khelne ke rules jo ki ek board mein khela jata hai. यह एक बुद्धिजनक लोगो का मनोरंजक खेल है जो दो लोगो के बीच खेला जाता है | यह खेल सर्वप्रथम पाँचवी – छठी शताब्दी (6th Century) में खेला गया था | कहा जाता है की इस खेल का अविष्कार भारत में किया गया था | इस खेल को चतुरंग के नाम से जाना जाता था | इसे खेलने के लिए विशेष ध्यान एवं चतुर दिमाग की आवश्यकता होती है | बाद में इसे कई नामो से जानने लगे | कुछ लोग तो इसे चतुरंग के नाम से भी जानते है |

Chess Meaning

CHESS = शतरंज

  • चतुरंग (Chaturang)

chess को खेलने के लिए एक विशेष प्रकार के बोर्ड की आवश्यकता होती है जिसमे 64 वर्ग बने होते है जो सफ़ेद एवं काले रंग में alternate (वैकल्पिक) होते है | इसमे खेलने के लिए मोहरे की आवश्यकता पड़ती है | इसमे कुल छः प्रकार के मोहरा होता है जो काला एवं सफ़ेद दो रंग के जोड़े में पाए जाते है, जिसमे 1 राजा, 1 रानी या वज़ीर, 2 किश्ती या हांथी, 2 फील या ऊंट, 2 घोडा एवं 8 प्यादा या सैनिक होते है | सभी सफ़ेद एवं काले मोहरों को बोर्ड के आमने सामने रखा जाता है |

और भी जाने बचपन के खेल जैसे कबड्डी और Carrom Board के बारे में |

Game Rules

इस खेल में सफ़ेद मोहरे वाले खिलाडी खेल को आरम्भ करते है | इसमे मौजूद सभो मोहरे का चाल अलग है एवं इन सभी को अलग प्रकार से खेला जाता है | आइए जानते है सभी मोहरों के चाल के बारे में |


राजा – राजा इस खेल का प्रमुख खिलाड़ी होता है, यह एक चल में किसी भी दिशा में एक वर्ग आगे या पीछे जा सकता है | राजा का एक विशेष चाल होता है जिसमे हांथी भी शामिल होता है जिसे castling कहा जाता है |

रानी या वजीर – वज़ीर शतरंज का सबसे ताकतवर मोहरा है | इस मोहरे में हाथी एवं ऊंट दोनों की शक्ति मिली होती है यह अपने स्थान से किसी भी दिशा में कितना भी वर्ग में जा सकता है परन्तु यह किसी मोहरा को तड़प नहीं सकता |

ऊंट – वज़ीर के बाद ऊंट एक ऐसा मोहरा है जो तिरछा चलता है | यह अपने वर्तमान वर्ग के रंग में ही तिरछा मोहरा को तडपे बिना आगे या पीछे चल सकता है |

घोडा – शतरंज में घोडा ही एक मात्र ऐसा मोहरा है जो अन्य मोहरा को तड़प सकता है | इसकी चल L की आकृति में होती है जिसमे 2 वर्ग सीधा आगे या पीछे एवं एक वर्ग बाया या दाँया जाता है |

हांथी – हाथी अपने वर्तमान वर्ग से बाए, दाए, आगे या पीछे जा सकता है यह भी अन्य की तरह मोहरा को तड़प नहीं सकता |

प्यादा या सैनिक – शतरंज में मौजूद 8 सैनिक सीधा चाल चलते है | अगर किसी मोहरे को मारने की स्थित उत्पन हो तो यह एक वर्ग बाए या दाए जाता है |

Castling

इस खेल में castling एक चल होती है जिसमे राजा एवं हाँथी शामिल होता है | इस चाल के लिए कुछ शर्त होते है जो निम्नलिखित है :-

  • राजा एवं हाथी की यह पहली चाल हो |
  • राजा एवं हाथी के बीच कोई मोहरा नहीं हो |
  • राजा को किसी प्रकार की चेक नहीं मिली हो |
  • राजा एवं हाथी एक ही पंक्ति में खड़े हो |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *