Colitis Symptoms, Treatment and Meaning (कोलाइटिस)

By | February 6, 2016

Find about Colitis causes, symptoms and treatment mentioned in Ayurveda at home. Kya aap iska ilaj aur lakshan khoj rahe hain? असल में Colitis पेट से जुड़ी एक common disease होती है जिसमें बड़ी आंत के भीतर सुजन (swelling) हो जाती है। colitis को ulcerative colitis  भी कहते हैं। इस बीमारी में मल(potty) बहुत हीं चिपचिपा और बदबूदार होता हैं । आमतौर से ये बीमारी उन लोगो को होने की ज्यादा chances रहती है जो लोग बहुत ज्यादा fry किया हुआ और spicy भोजन करते है या फिर वो लोग जो ज्यादा तम्बाकू,alcohal,और कैफीन जैसे पदार्थो का उपयोग करते है । colitis को कभी भी ignore नहीं करना चाहिए अन्यथा ये stomach cancer का रूप भी ले सकता है । अतः इस बीमारी के लक्षण दीखते हीं फ़ौरन हीं doctor से दिखवा कर इसका treatment करवा लेना चाहिए । बहुत से ऐसे घरेलु नुस्खे भी होते है जो की colitis को ठीक करने में helpful होते है ।

Colitis Symptoms and Treatment in Hindi

Colitis Meaning

What is the Colitis meaning in Hindi. Janiye aakhir Colitis ka kya matlab hota hai Hindi mein:

  • Colitis = बड़ी आंत का प्रदाह

कोलाइटिस के लक्षण / Symptoms of Colitis

Agar kisi marij ko niche diye gaye lakshan hain to Colitis ho sakta hai. Jaydatar mamlon mein Colitis hone par stomach ke aas pass pain rahta hai. To chaliye jante hai Colitis ke symptoms kaun kaun se hain:

  • रह रह कर पेट में जोरो की ऐंठन / मरोड़ उठाना,
  • पानी या खून की दस्‍त आना ,
  • मल में blood आना,
  • तेज fever आना ,
  • weight loss,
  • अनिंद्रा
  • Anemia (खून की कमी) आदि

कोलाइटिस का इलाज / Treatment of Colitis

Agar aap Colitis ki bimari se pareshan hai to ab aapko fikra karne ki jarurat nahi hai. Niche diye gaye upay se aap Colitis ka ilaj home par hi kar sakte hai aur wo bhi Ayuverdic treatment ke dwara:

अनार – colitis के patients के लिए अनार beneficial होता है । इसके patients को अनार के फल को चबा चबा कर खाना चाहिए। ध्यान रहे की अनार का juice नहीं बल्कि उसके दाने को खाना है । जितनी देर हो सके अनार के दाने को चबाते रहें और फिर उसे निगलें । colitis के मरीज को कुछ भी digest करने में थोड़ा problem होता है इसलिए starting में केवल 3-4 spoon अनार के दाने को खाएं ।  कुछ दिनों के बाद आप अनार के दाने का quantity बढ़ा सकते है ।

पानी – colitis के मरीज के body में पानी की कमी हो जाती है इसलिए इसके रोगी को ज्यादा मात्रा में पानी पीने का advice दिया जाता है। पानी की जगह रोगी को glucose भी दे सकते है। पानी की कमी आमतौर पर बूढे और छोटे बच्‍चों में पाई जाती है । Regular खाना खाने के बाद 1 glass warm water पीने से colitis की problem ठीक हो जाती है ।


नागदन्ती – लगभग 5 gram नागदन्ती के जड़ की छाल को दालचीनी के साथ लेने से पेट का जलन और दर्द से relief मिलता है । इस प्रक्रिया को regular सुबह -शाम में अपनाने से ज्यादा फायदा होता है ।

बेल – colitis के रोगी के लिए बेल बहुत हीं beneficial साबित होता है । कच्चे बेल को फोड़ कर उसे धुप में सुखा लीजिये और  फिर इसको कूट कर इसका powder ready कर लीजिये ।  ध्यान रहे की बेल के इस powder में कीड़े बहुत जल्दी लग जाते है इसलिए जितना powder का use हो उतना हीं powder बनाएं । बेल के इस powder को  छाछ  के साथ mix कर के पिए। छाछ तक्र को colitis के लिए बहुत हीं बढ़िया औषिधि माना जाता  है । 

छाछ  – छाछ colitis के लिए बहुत ही beneficial होता हैं। colitis के मरीज को daily  1 से 2 glass छाछ पीना चाहिए । अगर colitis ज्यादा बढ़ गया हो तो रोगी को week में एक दिन केवल  छाछ पीकर हीं रहना चाहिए छाछ के अलावा कुछ और नहीं खाना पीना चाहिए ।

एलो वेरा – क्या आप जानते है की aloe vera swelling और घावों को ठीक करने के लिए बहुत बढ़िया होता हैं। Daily morning में 1 glass गुनगुने पानी में 10 ml aloe vera का juice डाल कर लेने से colitis के मरीज को relief मिलता है ।

गाजर –  गाजर में vitamin – c और vitamin- B complex पाया जाता है हमारे पाचन तंत्र को strong strong बनाता है । गाजर के प्रयोग से भी colitis ठीक होती है ।

गेंहू के जवारों – गेंहू के जवारों का रस colitis के मरीज के लिए एक बहुत हीं बढ़िया औषिधि माना जाता हैं। अगर इस रस को लगभग 3 months तक regular लिया जाये तो colitis के मरीज को बहुत हीं फायदा पहुँचता है ।

पत्ता गोभी – क्या आप जानते है की पत्ता गोभी में anti oxidant पाए जाने के कारण इसे colitis के लिए एक बेहतरीन औषिधि माना जाता है । Cabbage में पाया जाने वाला ग्लूटमाइन में घाव भरने की और पाचन शक्ति को बढ़ने की amazing capacity होती हैं। regular इसके ताजे juice को लगभग 3 से 4 glass पीने से 1 week में colitis की problem जड़ से ठीक हो जाती है । 

अलसी – Colitis के treatment के लिए अलसी को भी एक अच्छा औषिधि माना जाता है । 1 spoon अलसी के चूर्ण को छाछ के साथ regular लेने से colitis के मरीज को राहत मिलती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *