Dengue Symptoms, Precaution and Treatment – डेंगू के लक्षण

By | May 9, 2016

इंसान को एडीज मच्छरों (Aedes mosquitoes) के काट लेने से जो fever होता है उसे dengue fever कहते है। डेंगू एक तरह का viral  रोग है जो की Dengue virus  द्वारा होता है। डेंगू कोई साधारण बीमारी नहीं है, अगर इसका treatment करवाने में जड़ा सी देर हो जाये तो ये बीमारी जानलेवा हो सकती है । अगर dengue fever के symptoms starting में हीं समझ आ जाएं तो इससे बचा जा सकता है। dengue से जूरी  सबसे अहम बात यह है कि dengue के मच्छर ज्यादातर दिन के समय में काटते हैं और यह मच्छर साफ पानी में पनपते हैं। डेंगू किसी को भी हो सकता है खास कर के ये बच्चो को ज्यादा होता है ।

Dengue Bimari ka desi ilaj aur treatment

Dengue fever होने पर Platelets level तेजी से down होता है, इसलिए फ़ौरन हीं इसका treatment करना पड़ता है, नहीं तो यह जानलेवा भी हो सकता है। इसके मरीज को तेल मसाले में बना भोजन को avoid करना चाहिए । Dengue Fever के लिए कोई medicine नहीं आती है और ना हीं इसके लिए कोई vaccine आता है । इस बीमारी में रोगी को केवल doctors के सलाह पर दवा व खाना लेना चाहिए और doctor के सलाह पर regular Platelet count का checkup करते रहना चाहिए ।

Dengue Fever ke Lakshan / Simple Symptoms of Dengue Disease

To chaliye sabse pahle jante hai ki aise kaun kaun se lakshan hai jinhe pahchan kar Dengue ko sahi samay rahte roka jaa satka hai. Niche diye gaye 8 coomon Dengue Symptoms hai jise aap aasani se pahchan sakte hain:

  • तेज ठंडी लगकर fever आना
  • सर में pain होना
  • आँखों में pain होना
  • body pain और joint pain होना
  • भूक ना लगना
  • जी मचलाना और उल्टी होना
  • दस्त लगना
  • skin पर लाल चट्टे आना आदि  

Dengue Bimari ka ilaj / Dengue Fever Treatment

Agar aap mein dengue ke lakshan dikh rahe hai to niche diye gaye upay se kafi had tak is bimari ko roka jaa sakta hai. Niche diye gaye Dengue ke treatment ko to Baba Ramdeve ne bhi approved kiya hai.  To chaliye jante hai is bimari ka desi ilaj ky hai:

अनार का जूस – डेंगू के मरीज के लिए अनार का juice बहुत हीं गुणकारी होता है । ये रोगी के body में new blood बनाने में तथा मरीज को बीमारी से Fight करने की ताकत देता है ।

गेहूं घास का रस – dengue के मरीज को गेहूं घास का रस भी दिया जाता है ये भी उनके body में new blood का रचना करके उन्हें बीमारी से लड़ने की ताकत देता है ।

बकरी का दूध – यकिन मानिये डेंगू की  बीमारी के लिए बकरी (goat) का दूध(milk) रामबाण की तरह काम करता है। बकरियां ज्यादातर medicinal plants को ही अपना आहार बनाती हैं जिसकी वजह से उनके दूध में से भी उसकी smell आती है । दूध के इसी smell के कारण ये dengue के लिए फायदेमंद होता है। इसलिए डेंगू के patient को थोड़ा सा कर के कच्चा हीं इस दूध को पीने देना चाहिए ।

पपीता का पत्ता – dengue के patient के लिए पपीता के पत्ते का juice बहुत हीं अच्छा होता है। पपीता के fresh पत्ते का juice निकाल कर dengue के patient को दिन में 2-3 times देना चाहिए । इसके 1 day के खुराक से ही Platelet की संख्या बढ़ने लगती है l

अदरक और इलायची – आयुर्वेद के मुताबिक कहा जाता है की अदरक और इलायची fever में relief पहुंचाते हैं। इसलिए जब dengue के मरीज को बहुत तेज fever हो तो उन्हें चाय में अदरक और इलायची mix कर के पिलाना चाहिए इससे उनके fever कम हो जाते है ।

गिलोय बेल की डंडी –  यह एक अचूक उपाय है, गिलोय बेल की डंडी के टुकड़े कर के उसे 2 glass water में 30 minute तक  boil कर लें । अब इस पानी को ठंडा कर के dengue के patient को पिलायें। इसे पीते हीं 40 से 45 minute के बाद Platelet की संख्या बढ़ना start हो जाता  है ।

सेब का रस – अगर dengue के रोगी को बार-बार vomiting हो रहा हो तो उसे सेब के रस में थोड़ा सा निम्बू के रस को mix कर के पिलाना चाहिए इससे vometing होना बंद हो जायेगा ।

अदरक और किश्मिश – यह एक आसन उपाय है, अदरक और किशमिश को boil कर के इसका काढ़ा ready कर लें और फिर इस काढ़ा को dengue के मरीज को पिलाएं इससे उन्हें लाभ होगा ।

Aloe vera – डेंगू में Platelet की संख्या को बढ़ाने के लिए aleo vera का juice पीना चाहिए इससे body में amino acids की कमी दूर होती है ।

हल्दी – यह तो एक रामबाण इलाज है, डेंगू के मरीज को हल्दी का सेवन ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए । हल्दी को किसी भी तरह से use किया जा सकता है या तो खाने में या तो दूध में। इससे रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है ।

डेंगू से रोकथाम के उपाय  / How to prevent Dengue Fever

अगर आप चाहते है की आप डेंगू जैसे खतरनाक बीमारी का शिकार ना बने तो आपको सबसे पहले डेंगू मच्छरो को पनपने से रोकना होगा । इसके लिए आप निचे दिए गए कुछ tips को अपनाना होगा :-

  • बारिस के पानी को कभी भी नालियों में , किसी बर्तन में , फटे पुराने टायरों में या फिर बाल्टियों में जमा कर के ना छोड़े इससे डेंगू मच्छर पनपते है ।
  • घर के पास नीम का पेड़ लगाने से Dengue मच्छर घर के अंदर नहीं आते है ।
  • घर में अगर swimming pool है तो उसका का पानी हर week change करते रहना चाहिए।
  • घर के सभी door और windows में जालियां (net) लगा होना चाहिए ताकि मच्छर घर के अंदर enter न कर सके।
  • सोने के time Mosquito net लगा कर हीं सोएं ।
  • घर के cooler का पानी भी regular change करते रहे ।
  • dustbin को हमेशा cover कर के रखें।
  • किसी भी बर्तन में long time तक पानी store ना करे और पानी के बर्तन को cover कर रखे।
  • घर में Tulsi plant लगाने से भी dengue मच्छर नहीं पनपते है ।
  • फूल आस्तीन का कपड़ा पहन कर हीं बाहर निकले ।

English Summary

There are few simple ways that can help you to find the symptoms of Dengue disease like:

  • Body Pain
  • Suffering from fever
  • Redness on skin

However if you are already the victim of Dengue disease, then its better to start doing home treatment as per Ayurveda that can help you to overcome.  Drink goat milk, add apple juice and turmeric in your diet that will improve the immunize system. Rest information can be found above.

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *