Gala Baithna ka Gharelu Upay – बैठे हुए गले का उपाय

By | June 2, 2016

गला बैठना जिसे Hoarse बोला जाता है,  असल में Gala Baithna एक आम बीमारी है जिस पर लोग ज्यादा ध्यान नहीं देते है | हमारे जोर जोर या ऊँची आवाज़ में लम्बे समय तक भाषण देने या अधिक जोर से बोलने, चिलाने से हमारे vocal cord प्रभावित होता है और हमे बात करने में दिक्कत होती है और आवाज़ साफ नहीं निकलती है | जिसे आप आम भाषा में गला बैठना भी कहते है | कई बार मौसम change होने के कारण (खास कर ठण्ड के समय) Gala Baithna एक आम समस्या है |

To chaliye jante hai iske main karan aur iska ilaj saral bhasa mein:

गला बैठने का कारण / Causes of Hoarse

Agar dhyan se dekha jaye to Gala baithane ka main reason kuch common karaono ke chalte hota hai, jiske karan baar baar gala baith jata hai.  Agar aap jor jor se lagatar bol rahe hon, ya phir achanak thanda aur garam chijon ka sewan kar rahe hon, to aapko gala baithane ki sikayat ho sakti hai. To chaliye jante hai gala ke baithane ke main causes kya hain:

  • लम्बे समय तक ऊँची आवाज़ में चिलाना
  • Tonsil के बढ़ने के कारण
  • अधिक ठन्डे चीजो का सेवन से जैसे ice-cream आदि
  • गरम खाने के पश्चात् ठन्डे पाने का पीना
  • शर्दी जुखाम के कारण (Shardi)

Gala Baithane ka ilaj / Simple treatment for Hoarse

Jayadatar mamlon mein gala baithane ka main karan hamare khan paan par dhayn nahi dene se hota hai. Parantu agar aapko gala pakad liye ho to niche diye gaye gharelu upay se aap gala thik kar sakte hain. To chaliye jante hai kaise aap ghar par apne baithae hue gale ka ilaj kare:

नमक पानी से गारगल करना

water

Yah sabse aasaan tarika hai baithe hue gale ko thik karne ka. एक गिलास पानी में चुटकी भर नमक मिलाकर उसे हलका गर्म कर ले | अब इस पानी से तीन से चार बार गारगल करे इस प्रक्रिया को रोजाना सुबह शाम करने से आपकी आवाज पुनः ठीक हो जाएगी |

मुलहठी / Mulethi

Mulhati

रोजाना सोने से पहले आधा चमच मुलहठी के चूर्ण को मुह में रखकर स्वाद लेते हुए सो जाए या फिर मुलहठी के चूर्ण को पान के पत्ते में डाल कर इसका सेवन करने से गले को आराम मिलती है |

काली मिर्च

Kali mirch ke fayde

यदि सर्दी जुखाम के कारण आपका गला बैठ गया है तो रोजाना सोने से पहले तीन से चार काली मिर्च और उतनी ही मात्र में मिश्री को एक साथ चबाने से बैठ गला खुल जाता है |

हल्दी

Turmeric or Haldi

यदि tonsil के कारण आपका गला बैठ गया है तो एक गिलास गर्म दूध में एक चमच हल्दी पाउडर मिलाकर सोने से पहले पीने से tonsil एक से दो दिन में ठीक हो जाता है जिस कारण बैठा हुआ गला भी खुल जाता है |

फिटकिरी

Alum

यदि किसी कारण वश आपके गले में सुजन आ गई हो और उस कारण आपका गला बैठ गया हो तो एक गिलास पानी ले और उसमे 50 ग्राम फिटकिरी को डाल कर दिन में दो से तीन बार गारगल करे | ऐसा करने से गले की खराश दूर हो जाती है और आपके गले को आराम मिलती है | इस प्रक्रिया को दो से तीन दिन करने से आपकी गले की सुजन कम हो जाता है और बैठा हुआ गला ठीक हो जाएगा |

चुना

गला बैठने पर सोने से पहले चुने का लेप बना ले और इसे सोने से पहले गले पर लगाए जिससे सुबह तक बैठा गला ठीक हो जाता है |

Summary

In today’s lifestyle Hoarse is a common type of disease today. However it can be cured by following home remedies. The main reason behind hoarse is negligence of diet, like having cold and hot drink together. The best way to get rid of hoarse is to do gargle with the help of a glass of water and 1/2 table spoon salt. Repeat this 4-6 times a day to get better result.

Related posts:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *