Gallbladder Stones ke Symptoms aur Treatment (हिंदी में)

By | January 20, 2016

Agar aapko Gallbladder Stones ki bimari hai aur iske symptomps aur treatment khoj rahe hai jo ki without operation ke ilaj ka thik ho sakta hai to ise padhe. पित्ताशय की थैली की पथरी को Gallbladder stones कहते है । लगभग 80% Gallbladder stones cholesterol के जम जाने की वजह से होती है। Gallbladder यानी की पित्ताशय की थैली हमारे body का एक main part होता है।  पित्ताशय हमारे body का एक बहुत हीं छोटा सा part होता है जो liver के ठीक निचे होता है। time पर खाना ना खाने से यही थैली long time तक  भरी रह जाती है और पित्त की थैली में जमाव शुरू हो जाता है, जो धीरे- धीरे पथरी का रूप ले लेता है। infection के कारण पाचक रस गाढ़ा हो जाता हैं और फिर धीरे धीरे वो पथरी का रूप लेने लगता  हैं। पित्त में cholestrol की मात्रा ज्यादा होने से मोटापे से ग्रसित महिलाओं में पित्त की पथरी होने की chances ज्यादा होती है। opration के अलावा Gallbladder stones को कुछ home remedies से भी गलाया जा सकता है ।

Identify Gallbladder

Symptoms of Gallbladder Stones 

Waise ise pakadna itna aasan nahi hai, par agar aap Gallbladder Stones ke lakshan jo ki niche diye gaye hai, use dhya se dekhe to aap aasan se suruwati stage mein symptoms ko pahchan sakte hai aur uchit treatment kara kar Gallbladder Stones ko alwida bol sakte hain.

  • पेट के Upper right side में बहुत pain होता है,
  • बहुतों को ये pain कंधे (Shoulders) की हड्डियों के बीच या फिर right Shoulders के नीचे भी होती है।
  • प्रायः उल्टी (vomit) आती है,
  • धीरे धीरे पेट का फूलना(Flatulence) ,
  • fatty food के पाचन में problem होना ,
  • डकार आना,
  • गैस बनना,
  • पेट में जलन होना,
  • भूख कम लगना,
  • खून की कमी इत्यादि ।

 Gallbladder Stone - this is how it looks like

पित्ताशय की थैली का इलाज / Treatment of Gallbladder stones

Agar aap gallbladder stones ka treatment karna chahate hai wo bhi without operation ke to niche diye gaye gharelu nuskhe ko apna kar iska uchit treatment karwa sakte hain. To chaliye jante hai ki kaise Gallbladder Stones ka ilaj kare without operation aur Ayurvedic desi dawa apnakar:

सेब का जूस और सेब का सिरका  सेब में malice acid होता है जो Gallbladder stones को गलाने में हमारी help करता है। एक glass सेब के जूस में 1 spoon सेब का सिरका mix कर के दिन में 2 times पीने से Gallbladder stones धीरे धीरे गलने लगता है । सेब का सिरका liver में cholestrol नहीं बनने देता है , जो की Gallbladder stones का सबसे main reason होता है।


हल्दी (turmeric) Gallbladder stones के लिए हल्दी(turmeric) भी एक best home remedy में से एक है। इसमें मौजूद anti oxidant और anti-inflammatory, Gallbladder stones को आसानी से गला देती है। कहा जाता है कि रोजाना 1 spoon हल्दी लेने से लगभग 80 % stone गल जाती हैं।  अतः अपने भोजन में उचित मात्र में हल्दी का सेवन करे |

नाशपाती का जूस (Pear juice) – Gallbladder stone को नाशपाती (pear) से भी गलाया जा सकता है। नाशपाती में pectin पाया जाता है जो की cholesterol को बनने से रोकता है। 1 glass गर्म पानी में 1 glass pear juice और 2 spoon honey को mix कर के दिन में 3 बार पीएं।

नीबू का रस नीबू का रस या फिर कोई अन्य खट्टे fruits का रस पित्ताशय में cholesterol जमा होने से रोकता है जिससे stone होने का chance कम रहता है। इसलिए दिन में कम से कम 3 times नीबू का रस यानि की lemon juice का सेवन करे ।
चुकंदर, खीरा और गाजर का जूस-   गाल ब्लैडर स्टोन  के लिए इन सभी चीजो का juice फायदेमंद होता है। इन तीनो चीजो का juice liver को साफ़ कर के पथरी बनने से रोकने में help करता है। चुकंदर, खीरा और गाजर को बराबर मात्रा में ले कर इनका juice तैयार करें और इस जूस को रोज 2 times कर के पीयें ।

पुदीना (Mint)-  पोदीना में टेरपिन (Terpene) नामक यौगिक होता है जो stone को गलाता है । पुदीने की पत्तियों को boil कर के इसका पिपरमेंट tea  भी बनाया जा सकता हैं। ये tea, Gallbladder stones के लिए फायदेमंद होती है । इसे बनाने के लिए पहले पानी को boil करे और फिर उसमे पुदीना यानि की mint के पत्तो को डाल कर boil करे । जब पोदीना पानी में अच्छे से boil हो जाये तो तो उसे cup में छान कर उसमे 1 spoon honey को mix कर के चाय की तरह पीने से फायदा होता है ।
अरंडी का तेल (Castor oil) अरंडी का तेल stone को गलाने में helpful होता है और ये pain को भी कम करता है। पेट के ऊपर पित्ताशय के जगह पर हलके हाथों से इस तेल से मालिश करने से Gallbladder stones में राहत मिलती है ।

2 thoughts on “Gallbladder Stones ke Symptoms aur Treatment (हिंदी में)

  1. jitendra pratap singh

    mere ko11mm ki gall bladder me pathri hai galne ka upai bataye

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *