श्री गणेश जी की पूजा विधि, सामग्री सूचि और मंत्र

By | June 20, 2016

तो चलिए आज जानते है भगवान गणेश जी की पूजा कैसे की जाती है पुरे विधि के साथ | जानिए Puja में लगनेवाली samagri की सूचि और मंत्र  – How to do at home. According to हिन्दू धार्मिक ग्रंथ Lord Ganesha – Lord Shiva और Goddess Parvati के पुत्र कहलाते है। हिन्दू धर्म में किसी भी नए कार्य (work) को start करने से पूर्व Shri Ganesha का नाम लिया जाता है। ऐसी मान्यता है की Shri Ganesha का नाम ले कर अगर कोई काम शुरु किया जाये तो वो काम अवश्य हीं पूरा होता है। यही नहीं हिन्दू धर्म के मुताबिक किसी भी god या goddess की पूजा से पूर्व Shri Ganesha की पूजा की जाती है। शास्त्रों के मुताबिक Wednesday के दिन को Shri Ganesha का दिन कहा जाता है। किसी को विशेष रूप से Lord Ganesha की पूजा करनी होती है तो वे लोग बुधवार को हीं इनकी पूजा करते है । तो चलिए जानते है गणेश जी की पूजा करने की सही और सरल तरीका क्या है ।

How to perform Lord Ganesh Puja Vidhi

गणेश जी के लिए पूजा की सामग्री सूचि

Jab aap ghar par Shree Ganesh ji ki puja karne jaa rahe ho to aapko niche di gay saamano ki jarurat hogi. Aap ise najdiki puja store se bhi le sakte hain:

  • गणेश जी की छोटी सी एक मूर्ति (ध्यान लगाने और puja के लिए), उनके वस्त्र
  • गणेश जी को बैठा कर स्नान कराने के लिए एक पात्र
  • अक्षत, धूप, दीप, अगरबत्ती, कपूर
  • मोदक (बूंदी लड्डू), लाल चन्दन, रोली, सिन्दूर हल्दी
  • लाल पुष्प, पान का पत्ता, फल, गंगाजल
  • पंचामृत, जल, नेवैद्य, आरती के लिए एक पूजा की थाली आदि ।

गणेश जी की पूजा विधि 

To Chaliye ab bina samay gawae jante hai Shree Ganesh Bhagwan ki Puja Vidhi kaise ki jati hai:


  • First of all एक साफ़ स्थान पर Lord Ganesha की मूर्ति को स्थापित करे और मूर्ति के समक्ष अपने भी एक साफ़ आसन ज़मीन पर बिछा कर बैठ जाएँ ।
  • Before starting puja सकंल्प लें । संकल्प के लिए अपने हाँथो में जल, एक पुष्प और अक्षत लेकर पूजा के दिन (day) का नाम, year, date, जिस place पर पूजा कर रहे है उस place का नाम, अपना गोत्र, अपना नाम व अपनी इच्छा बोले।
  • संकल्प ले लेने के बाद अब हाँथ की सभी सामग्री को जमीन पर छिड़क दें।
  • अब Lord Ganesha पर अक्षत छिटते हुए उनसे “आवाहन” (मूर्ति में उपस्थित) होने के लिए आग्रह करे।
  • अब सबसे पहले Bhagwan Ganesha की मूर्ति को एक पात्र में रख कर “ऊँ गं गणपतये नमः पादयोः पाद्यं समर्पयामि” मंत्र को बोलते हुए उनके दोनों पैरो को जल से धोएं ।
  • पैर धूल जाने के बाद “ऊँ गं गणपतये नमः आचमनीयम् जलं समर्पयामि” बोलते हुए Lord Ganesha के “आचमन” (मुख शुद्धि) हेतु उन पर जल चढ़ाएँ ।
  • अब Lord Ganesha को पंचामृत से नहाएं । श्री गणेश जी को नहलाते वक्त इस संस्कृत मंत्र को पढ़ते हुए नहाएं :- “ ऊँ गं गणपतये नमः पंचामृतस्नानं समर्पयामि”।
  • पंचामृत से स्नान हो जाने के बाद Lord Ganesha को जल से दोबारा स्नान करवाएं।
  • अब स्नान हो जाने के बाद Lord Ganesha की मूर्ति को पात्र में से निकाल कर एक चौकी पर साफ आसन बिछा कर उस पर बिठाए ।
  • अब सर्वप्रथम Lord Ganesha को वस्त्र अर्पित करे।
  • उसके बाद उन्हें लाल रंग के चंदन, रोली, सिन्दूर व हल्दी लगाएं ।
  • अब “ऊँ गं गणपतये नमः पुष्पं समर्पयामि” मंत्र को बोलते हुए Lord Ganesha को लाल रंग के पुष्प चढ़ाएं।
  • अब Lord Ganesha को नेवैद्य अर्पित करे बस ध्यान रहे की Lord Ganesha को तुलसी नहीं चढ़ाया जाता है ।
  • अब उन्हें फल समर्पित कर के “ऊँ गं गणपतये नमः मिष्ठान्न भोजनम् समर्पयामि” मंत्र बोलते हुए मोदक (लड्डू) का भोग लगाएं ।
  • अब Lord Ganesha को धुप, दीप व अगरबत्ती दिखाएँ ।
  • Before completing पूजा Lord Ganesha के मंत्र का १०८ बार जाप करे । Mantra  है :-

ॐ श्री गणेशाये नम: ।।

या

ॐ गं गणपते नम: ।।

  • अब पूजा की थाली में एक पान का पत्ता रख कर उस पर कपूर जला कर Lord Ganesha की आरती करे ।
  • आरती के बाद अब Lord Ganesha से हाँथ जोड़ कर पूजा में किसी प्रकार की कमी हो जाने के लिए क्षमा प्रार्थना करे और उनसे अपनी पूजा स्वीकार करने को कहे ।

Note– शास्त्रों के हिसाब से Lord Ganesha की पूजा के बाद शिव पार्वती और नन्दी की भी पूजा की जाती है ।

Summary

If you want to know how to do the Puja Vidhi of Lord Ganesha then above provided details might help you out. You will need things like statue of Ganesh, one patra, small quantitiy of rice, diya, Incense stick, Kapoor along with dhoop.  You will also need Laddo (sweets), red sandal powder, Sindur, Turmeric powder and Roli. Rest detailed information is provided above.

One thought on “श्री गणेश जी की पूजा विधि, सामग्री सूचि और मंत्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *