Injectable Polio Vaccine (IPV) Uses, Side Effects – India

By | March 8, 2017

The Injectable Polio Vaccine also known as IPV is uses to treat Polio. Find its possible side effects, doses for children and aduilts in India. Injectable polio vaccine एक तरह का टीका है जो की polio से बचने तथा उसके इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है, पोलियो एक प्रकार का बीमारी है जो की virus के द्वारा होता है | यह रोग मुख्य रूप से व्यक्ति से व्यक्ति के संपर्क में आने से फैलता है | इस vaccine का अविष्कार Dr Jonas Salk के द्वारा 1955 में हुआ, इसलिए इस vaccine को Salk vaccine भी कहा जाता है | IPV मानव शरीर के अंगो को प्रभावित करने वाले poliovirus को नष्ट करता है | IPV  को intramuscular या intradermal injection के द्वरा दिया जाता है, यह vaccine नवजात शिशु को दिया जाता है और इसे एक प्रशिक्षित स्वास्थ्य कार्यकर्ता द्वारा प्रशासित किया जाना चाहिए, इस टीका को उम्र के अनुसार पैर और हाथ में दिया जाता है | इस vaccine का इस्तेमाल बच्चो को हांथ में किया जाता है और बड़े लोगो के पैर में किया जाता है |

Injectable Polio Vaccine uses in India

बच्चो के लिए खुराक / Doses for Children

अधिकांश लोगों को पोलियो की वैक्सीन birth के समय पर ही दी जाती है, इस वैक्सीन को चार खुराखो में दी जाती है जो की निम्नलिखित समय के अंतराल में दिया जाता है |

  • IPV की पहली खुरका बच्चे के जन्म के ठीक 2 महीने के बाद दिया जाता है |
  • इसकी दूसरी खुरख जन्म के 4 महीने के बाद दी जाती है |
  • 6 से 18 महीने में IPV टीके का तीसरी dose दिया जाता है |
  • IPV का फाइनल dose जिसे की Booster dose कहा जाता है उसे 4 से 6 साल के अंदर दिया जाता है |

बड़ो के लिए खुराक / Doses for Adults

वैसे तो प्रायः सभी बच्चो को Injectable polio vaccine की सभी खुराक बचपन में ही दी जाती है लेकिन निम्न स्थितियों में adults को पोलियो टीकाकरण की आवश्यकता हो सकती है |


  • यदि आप किसी polio-endemic वाली स्थान पर यात्रा कर रहे तो यात्रा से पहले आपको IPV का टीका लेना चाहिए |
  • यदि आप किसी laboratory और handling specimens में काम कर रहे तो आपको इस टीका को लेने की आवश्यकता हो सकती है |
  • यदि आप एक स्वास्थ्य देखभाल कर्यकर्ता है और आप पोलियो से ग्रसित लोगो का इलग कर रहे है तो पोलियो वायरस के संकर्मन से बचने के लिए इस टीके की आवश्यकता हो सकती है |

फायदे / Benefits 

  • इंजेक्शन पोलियो वैक्सीन एक ‘live’ vaccine, नहीं है इसलिए इस टीका को लेने से VAPP का कोई risk नहीं रहता है |
  • आईपीवी ज्यादातर लोगों के शरीर में एक उत्कृष्ट रक्षात्मक प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया से काम करता है |
  • यह टीका उपयोग की दृष्टि से सबसे सुरक्षित टीकों में से एक है।
  • इस टीकाकरण से कोई गंभीर प्रणालीगत प्रतिकूल प्रतिक्रिया देखने को नहीं मिला है |

नुकसान / Side-effects

  • यह टिका हमारे अतों में प्रतिरोधक क्षमता के स्तर को बहुत कम करती है । परिणामस्वरूप यह होता है की जब कोई व्यक्ति IPV से immunized किया जाता है तो वह wild poliovirus के द्वारा infected होता है जिससे Virus हमारे आतों में दुबारा विकसित होने लगता है जिससे हमारा शरीर खतरे में पड़ जाता है |
  • IPV OPV के तुलना में 5 बार अधिक महंगी है, इसके साथ ही इस टीकाकरण के लिए प्रशिक्षित स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की आवश्यकता sterile injection equipment की जरूरत होती है |

Note

इस vaccine तथा बीमारी से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लिंक का सहारा ले :-

https://www.cdc.gov/vaccines/hcp/vis/vis-statements/ipv.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *