Lily Flower in Hindi – लिली

By | January 13, 2017

Kya aap jante hai Lily in Hindi ka kya meaning hota hai? Yah asal mein ek flower hai, janiye lily flower ki care kaise kare aur iska mahatav – पढ़े अपनी भाषा में | पृथ्वी पर कई प्रकार सुगन्धित और खुबशुरत फुल पाए जाते है, इन सभी फुल में से एक है लिलि | लिलि एक प्रकार का घास है जिसका विकास बिज से होता है | लिलि अपनी खूबसूरती और सुगंध के लिए जाना जाता है, इसमें मौजूद इन्ही गुणों के कारण सदियों से इसका इस्तेमाल साज सज्जा के लिए इस्तेमाल किया जाता है | लिलि फूलो Liliaceae प्रजाति के फूल है | इसके फुल काफी रंगीन होते है जो सभी को अपनी और आकर्षित करता है |

Lily flower in Hindi

Lily Flower = कुमुदिनी

Ab aapko malum hoga Lily in Hindi ka meaning kya hota hai, yah ek medium size ka flower hota hai jise aasani se garden mein ugaya jaa sakta hai.

Lily के पौधे अन्य पौधे से बड़े होते है इसकी लम्बाई 2 फीट से 7 फीट तक होती है | और साथ ही इसके पौधे का आकर इसके बिज पर निर्भर होता है | कुछ प्रजाति के पौधे बिज से निकले पौधे की वृधि पर निर्भर करता है | इसके बिज को गहरे में लगे जाती है | लिलि मुख्य रूप से उत्तरी शीतोष्ण क्षेत्र में अत्यधिक मात्रा में पाई जाती है | साथ ही लिलि के अच्छे उपज के लिए गहरी, बलुई दोमट तथा संचित मिट्टी लिलि के लिए उत्तम माना गया है |

Lily Planting

Lily की खेती के लिए इसके बिज को वसंत ऋतू में बोया जाता है | Lily के बिज अंकुरित के लिए ठण्ड और शुष्क ऋतू की आवश्यकता होती है | इसके बिज को लगाने से पहले हमे मिट्टी की जाँच अवश्य करवानी चाहिए | इसके पौधे का स्वस्थ विकास के लिए संचित मिट्टी जैसे गहरी, बलुई मिट्टी उत्तम सिद्ध होती है | बिज के अंकुरित होने के बाद इसके पौधे के विकास के लिए धुप की आवश्यकता होती है | इसलिए खुले स्थान का चयन करे | बिज को 12 से 15 इंच की गहराई में लगाए यह पौधे को सही संतुलन बनाए रखेगा और पौधा खड़ा रहेगा |

जानिए और सभी फूलों के नाम और आर्किड फूल यहाँ पर विस्तार में |


Lily Care / कुमुदिनी पौधे के देखभाल 

लिलि की अच्छी quality के लिए इसके पौधे का देख रेख करना अति आवश्यक है | इसके देख रखे के लिए हमे कुछ बातो का ध्यान रखना अति आवश्यक है यह सभी लिलि के पौधे को स्वस्थ रखने में काफी मददगार साबित होता है |

  • पौधे का स्वस्थ विकास के लिए पौधे में सप्ताह में कम से कम 1 इंच की सिचाई की आवश्यकता होती है |
  • पौधे का रोपण एक लय में करे इससे खरपतवार का निकाशी अच्छा से होता है |
  • पौधे को हमेशा mulch करने की आवश्यकता है | इससे पौधे के जड़ का मिट्टी शुष्क नहीं होगा |
  • पौधे में मुरझाए हुए फुल को हमेशा हटा दे इससे पौधे अपनी energy व्यर्थ नहीं कर पाएँगे और पौधे में लगने वाले फुल स्वस्थ रहेंगे |

कुमुदिनी फूल का महत्व / Significance of Lily

लिलि आज लम्बे समय से हमारे बीच मौजूद है और आज भी इस आधुनिक यूग में अपना स्थान बना रखा है | इसके अलग अलग रंग अलग अलग महत्व को दर्शाता है |

  • सफ़ेद लिलि – सफ़ेद लिलि को लोग Easter Lily के रूप में भी जानते है | सफ़ेद लिलि हमारे बीच पवित्रता, पूण्य, आशा और मासूमियत को दर्शाता है |
  • गुलाबी लिलि – गुलाबी लिलि धन, समृद्धि, आशा और आकांक्षा को दर्शाता है | इस रंग के लिलि का इस्तेमाल विवाह, जन्मदिन या किसी अन्य party में उपहार के तौर पर इसका इस्तेमाल किया जाता है |
  • नारंगी लिलि – नारंगी रंग में लिलि काफी सुन्दर दीखता है, इसे टाइगर लिलि (tiger lily)  कहा जाता है | इस रंग के लिलि धन और समृद्धि को दर्शाता है |
  • पीला लिलि – पीला रंग का लिलि दिखने में काफी राशीला दीखता है | इस रंग के लिलि संज्ञा के कामुकता को दर्शाता है |
  • लाल लिलि – लाल रंग मानव जीवन में हमेशा से कुछ ना कुछ का प्रकित रहता है, लाल लिलि की भाषा में कहे तो लाल रंग के लिलि प्रेम का प्रतिक है |
  • Oriental Lily – Oriental लिलि के रंग विश्वास और पवित्रता को दर्शाता है | मुख्य तौर पर Oriental lily का इस्तेमाल mother’s day और father’s day जैसे occasion में किया जाता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *