Mansik Rog ke Lakshan aur Karan in Hindi

By | April 1, 2017

आज के दौर में कई लोग mental illness से परेशान हैं, तो आइये जानते है मानसिक रोग के लक्षण और इसके कारण के बारे में विस्तार से ताकि सही इलाज कर के इसे दूर किया जा सके | आजकल के जीवनशैली से लोगों के शरीर पर हीं नहीं बल्कि उनके मानसिक पर भी असर हो रहा है। भाग दौड़ की वजह से लोगो के स्वास्थ तो खराब हो हीं रहे है साथ हीं उनके mind पर भी काफी प्रभाव पर रहा है। यही वजह है की लोग मानसिक रोग का शिकार हो जाते है।  ऐसे लोगो को ज्यादा देखभाल की आव्यशकता होती है क्योंकि ऐसे लोगो को खुद अपना होश नहीं रहता की वो क्या कर रहे है या फिर उन्हें क्या करना चाहिए । Male हो या फिर female, यह रोग किसी को भी हो सकता है।Mental disorder ke lakshan

 

जब कोई एक इंसान सही से सोच नहीं पाता, उसका खुद के भावनाओं व स्वभाव पर काबू नहीं रह पाता है , तो समझ लीजिये की वो इंसान इस रोग से ग्रसित है ।

कई लोग इसे गंभीरता से नहीं लेते ह,  लेकिन ये रोग कोई मामूली रोग नहीं है, इससे ग्रसित लोग पूरी तरह से पागल भी हो सकते है।  अतः समय रहते इसके mental illness के लक्षण को पहचान कर doctor से consult करना चाहिए ताकि जल्द से जल्द इसका treatment करवा कर इस रोग से बाहर निकला जा सके । आज इस article में हम आपको मानसिक रोग की वजह और इसके लक्षण के बारे में बताने जा रहे है ताकि आप सब इस रोग का शिकार होने से बच सके । 

मानसिक रोग के लक्षण / Symptoms of Mental Disorder

इस रोग के लक्षण कई तरह के होते है और ये लक्षण हर किसी में अलग-अलग दिखाई दे सकते है। चूँकि मानसिक रोग कई कारण से हो सकते है इसलिए situation के अनुसार हीं इसके लक्षण भी दिखाई देते है । कई लोगो में इसके लक्षण लेट से दिखाई देता है तो कईयों में ये लक्षण तुरंत नज़र आ जाता है। लेकिन समय रहते हीं यदि इस रोग के लक्षण नज़र आ जाए तो इसका treatment करवा कर इससे बाहर निकला जा सकता है । तो चलिए जानते है mental illness के मुख्य लक्षण क्या क्या होते हैं।


  • किसी फंक्शन में सब से कट कट के अकेले रहना।
  • अपने आप से बात करना ।
  • कोई भी बात समझने में मुश्किल होना।
  • रात रात भर नींद ना आना या बार बार रात में अकेले जागना |
  • कम बोलना और खुद में गुमसुम रहना ।
  • बात बात पर डरना या confidence की कमी रहना |
  • दूसरों पर हमेशा शक करना ।
  • किसी के मृत्यु पर ना रोना और ना ही उसे accept करना ।
  • बात बात पर जरुरत से ज्यादा क्रोध होना और चिल्लाना, आदि ।

मानसिक रोग के कारण / Causes

इन रोगों के कई वजह हो सकते है जैसे की :-

  • यदि किसी के family में पहले से हीं किसी सदस्य को इस तरह का रोग है या रह चूका है तो उनके आने वाले generation को भी ये रोग हो सकता है ।
  • शारीरिक गठन भी इस रोग के होने का एक कारण हो सकता है । ज्यादा मोटे लोगो में भावात्मक रोग, हिस्टीरिया आदि कई तरह की बीमारी पाई जाती है वहीँ पतले लम्बे लोगो में विखंडित मनस्कता, तनाव, जैसी समस्या अधिक पाई जाती है जो की इस रोग के कारण बन सकते है ।
  • खुद में खोए रहना, गुमसुम रहना, ज्यादा किसी से दोस्ती यारी ना करना, सारा दिन किताबो में घुसे रहना आदि इसकी वजह बन सकती है ।
  • ज्यादा दवा, रासायनिक तत्वों, मदिरा आदि के सेवन भी यह समस्या हावी हो सकती है ।
  • किसी अपने की मृत्यु, किसी प्रिय के साथ तनाव, आर्थिक स्थिति का खराब होना, समय पर विवाह ना हो पाना, आदि मानसिक रोग के कारण बन सकते है ।
  • जिन्हें जरा जरा से बात पर ज्यादा भय रहता है वे भी इस रोग का शिकार हो सकते है ।
  • ज्यादा क्रोध करना भी मानसिक रोग का कारण बन सकता है ।
  • जो लोग ज्यादा किसी से भी ईर्ष्या की भावना रखते है, और हमेशा जलन भाव रखते हैं वे भी इससे ग्रसित हो सकते है ।
  • जो ज्यादा चिंता फ़िक्र करते है और दिन भर केवल परेशानी के बारे में सोचते है |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *