Mouth Ulcers (Muh Ke Chhale) Treatment – मुहं में छाले का इलाज

By | June 10, 2015

Mouth Ulcers Treatment is now in Hindi – मुंह और जीभ के छाले का इलाज अब अपने घर पर करे – muh ke chale ka ilaj with home remedies in hindi. एक छोटी सी फुंशी जो की मुहं में होने से लगातार दर्द (pain) होता है, जिसके कारण दिन प्रतिदिन की रोजमर्रा की कामो में काफी असहाय महसूस होता है | मुंह के छाले होने के कई कारण हो सकते है, परन्तु ठीक से घर पर इलाज करने से इससे छुटकारा पाया जा सकता है |

Mouth Ulcer that is also known as Muh ke chhale in Hindi and its treatment and ilaj

Mouth ulcer ek gambhir tarah ka rog hota hai . is rog ke hone par sabse pahle muh me chote chote chhale banne lagte hai jo baad me footne par ghao ki ( chakta)  ki  tarah dikhte hai .  jisse  logo ko kafi pareshaniya ho sakti hai .  sadharanta mouh ulcer samanya tarah ke kote hai parantu  kai bar yah kafi  ghatak sidh hota hai . kyuki lambe samay tak agar iska upchar nahi ki jane par yah janlewa cancer ka roop dharan kar leta hai . jiske karan apko apni muh ki surgery karwani pad sakti hai aur ho sakta hai ki aapke muh ka ek bada bhag ko kaat kar apke muh se alagkar diya jaye .. ata samay rahte aapne muh par hone wale ulcer ko jald se jald thik karne ki koshis kare .  muh me ulcer hone ke kai karan hai jo is prakar hai.

Meaning of Mouth Ulcer in Hindi

Mouth ulcer = मुह के छाले

example = मुह के भीतरी भागो में बनने वाले गोलाकर चकती |

मुहं में छाले होने के कारण / Causes of Mouth Ulcers / Muh ke chale hone ke karan

कई कारणों से हमारे मुह में छाला होते है, इसका कई कारण हो सकते है | जैसे –

  • मसालेदार भोजन के अधिक सेवन करने से |
  • समय बचाने के उपक्रम में जल्दी जल्दी खाने से |
  • vitamin – B complex की कमी से |
  • खाने के समय अगर हमारे दांतों से मुह के भीतरी भाग को चबा जाने से |

मुह के छाले का उपचार  – Treatment for mouth ulcer – Muh ke Chale ka ilaj

मुह का छाला वैसे तो, आसानी से कुछ दिनों के बाद चला जाता है | परन्तु कभी कभी लम्बे समय तक यह रह जाता  है, जिससे काफी परेशानिया होती है |  इससे कई आसान तरीको को अपना कर इससे छुटकारा पाया जा सकता है |

  • अगर आप के मुह में अलसर हुवा हो तो अधिक से अधिक पानी का इस्तेमाल करे |
  • रोजाना दिन में तीन बार ब्रश करे |
  • ब्रश हमेशा मुलायम धागों वाला ही इसतेमाल करे |
  • मसालेदार भोजन अलसर को बढ़ा सकता है , इसका भी सेवन कम करे |
  • तंबाकू का सेवन कम करे | इन सब के सेवन से मुह के छाले में बढ़ोतरी होती है |
  • नीम का दतुवन toothpaste का इस्तेमाल दांत साफ करने के लिए करे | इससे भी फायेदा मिलेगा |

हल्दी (turmeric powder )

हल्दी सदियों से उपचार के इलाज में इस्तेमाल किया जा रहा है | हल्दी का Ayurveda में तो हजारो सालो से इसका फलदायी उपयोग हो रहा है | आइये जानते है हल्दी को मुह के छाले होने पर कैसे उपयोग किआ जाये –

  • एक ग्लास पानी ले उसमे एक चम्मच हल्दी का powder को मिला ले, और उसे हल्का गर्म कर ले |
  • हल्दी mix गर्म पानी से दिन में 20 से 25 बार गर्गिल करे |

शहद और इलाइची (honey & cordomon paste)

शहद के साथ इल्लैची के powder को मिलकर उसका paste को छाले वाले जगह पर लगाने से छाला कम हो जाता है |

  • एक चम्मच शहद ले उसमे 2 या 4 इल्लैची क के डेन की पिसा हुआ powder को mix कर ले |
  • अब उससे तैयार paste को छाले में लगा कर रखे |

धनिया पत्ता Coriander leaves

coriander leaves / सब्जियों में सुगंध के लिए इसके पत्ते की इस्तेमाल किया जाता है |

  • दो चार धनिये के पत्ते समेत तने को हलके से निचोड़ कर उसका रस को सीधे छाले में लगाये |

चमेली / Jasmine 

jasmine = चमेली/ एक फूल के पौधा का नाम है | जिसमे लाल रंग के छोटे छोटे फूल,  गुछे के रूप में होते है |

uses = चमेली के पत्ते को पीस कर उसके रस को छाले वाले जगह में लगाने से छाला कम हो जाता

है |

अमरुद / Guava 

अमरुद = guava, यह cheery प्रजाति का फल है, जो मुख्यता tropical climate वाले देशो में पाए जाते है |

  • अमरुद के दो पत्तियों को अपने हाथो से मसल कर के उसके रस को छाले में गर दे |

बर्फ के टुकड़े / Ice cube

बर्फ के टुकड़े से छाले वाले जगह पर रखने से भी छाला ठीक हो जाता है |

  • बर्फ के छोटे से सिल्ली को मुह के ulcer में 20 से 25 second तक रखे |
  • इस प्रक्रिया को बरी बरी से 4 से 5 बार लगातार करे |

तुल्सी का पत्ता / Basil leaves

basil leaves = तुल्सी का पत्ता/ तुल्सी का पत्ता हर किसी के आंगन में मिलता है | हिन्दू धर्म को मानने वाले अक्सर अपने आंगन में इसके पौधे को उगाते है | यह उनके धार्मिक विस्वास के प्रतिक होता है |

  • दो से चार तुल्सी के पत्ते को अपने हाथो में मसल ले फिर उसके रस को मुह में छाले के ऊपर गर दे |

नारियल पानी / Coconut water

नारियल पानी ना केवल हमारे शरीर बल्की मुह के छाले में भी लाभदायक है –

  • नारियल के भीतर पाए जाने वाली तरल को पिने से पेट ठंडा रहता है जिससे छाला जैसी समस्या नहीं होती |
Related posts:

26 thoughts on “Mouth Ulcers (Muh Ke Chhale) Treatment – मुहं में छाले का इलाज

  1. Ram

    Mujhe muh me jakhm ho gya hai… 1 sal se lagatar hota hai… Koi achha ilaz ke liye bataye.

    Reply
  2. md nuruddin

    Mera monh nahi kholta hai 7 salon se elag Kara raha hon magr koi faeyda nahi hai koi acha elag barney

    Reply
    1. Satyajit

      Dhaniya aur jeera ratbhar pani mein bhigokar subah mishri ke sath le 3.4 din tak khaya kariye

      Reply
  3. ashwani

    Muh ke chhale ke ilaj ke liye sabse achi dawa fitkari se kulla kare se thik ho jata hai

    Reply
  4. Pramod sharma

    mere muh me chhale karib 8 years se hai maine karib 3 lakhs medical me kharch kr chuka hu…but mujhe koi releif nhi hai dava jb tk khata hu tb tk thk rhte hai medicine bnd krne se turant fir ho jate hai…plz suggest me solution..

    Reply
    1. Bhagat Post author

      ऊपर दिए गए उपाय को आजमाये और masala या तीखा भोजन से परहेज kare

      Reply
    2. Neeraj

      Mujhe mhine me kam se kam ek bar chale to aa hi jate hai mai bhut presan hu
      kya yh koi gambhir rog ho sakta hai.
      Iska koi upay btaye please

      Reply
  5. Shivkumar

    Sir Mere muh me ek thoda bada Chala hai aur wo bhi first time hua hai, par Mujhe tension he ki kahi cancer to nahi hua hai.

    mere Chala hue 4 Din ho chuka hai lekin Ab Bada Ho Chuka hai. Chale ke Bich Me Kala kala Kuch Dikhta He To Mujhe Koi Achi Dawa Bataye yea Fir ye batye ki ye he kya

    Reply
    1. ankit

      Pehle to dimag se faltu khayal nikalo ki cancer hai .. ho jatega wo thik time lagega 8 se 10 din khame pine pr dyan do masala mt khao or jam ke patte chabao

      Reply
    2. MERAJ

      Mujhe feb 2016 me tified hua tha..english dwa liye to thik ho gya..magar ander gaal me dono side laal daag hua tha fir dwa liye to ab safed ho gya hai or muh pura khulta bhi nhi hai…koi satik elaj bataye

      Reply
  6. vinod prajapati

    sir mujhe 2 base se chhale ho rahe hai. ilaj karne par kuch din ke liye thik ho jate hain. Bataye mai kya karu.

    Reply
  7. vishalshukla

    Sir mere gaal par chalaan hi 6 years se na hi khane me takhleef hi na hi muh kholne me par Dar lagta hi koi beemari to nhi hi koi dava bataye sir

    Reply
  8. रामकृपाल यादव

    इस जानकारी के लिये धन्यवाद

    Reply
  9. vasudev vaishnav

    sir mere muh m chale ho gaye h hoto pr sujan aa gai h koi upay btao

    Reply
  10. ravi

    Sir mere chhale kbhi nhi jate ek khtm hota h to dusra nikl aata h kbhi finish nhi hotey

    Reply
  11. ASHOK BHARDWAJ

    Neem ke datuan se datwan kare
    Aur fitkai ko pani mein halka sa boil kar le
    fir ise 3 se 4 din tak kulla kare, aaram milega

    Reply
  12. aarish alam

    mai aarish mere moonh me kaee varshon se chhale nikal ja rahe hain hain aor kaee dino tak pareshan rahta hoon kooi achha ilaj batayen

    Reply
  13. vikash kumar raaz rohtas bihar

    Apka upay bahut hi sarl and achha hai

    Reply
  14. Nitesh Rajoriya

    Hi sir mera name Nitesh Rajoriya hai
    or mere muh me har 2 se 3 mahine me ulcer ho jate hai ilaj bhi karwata hu to kuch samay ke liye sahi ho jate hai, lekin bad me wapas wahi problem hoti hai
    sir please aap mujhe ulcer ka permanent ilaj bataiye
    thanks

    Reply
  15. mitrabhanu sahu

    mere muh me chhale pad gaya hai aur o chhod deta hai aur o fir se ho jata hai

    Reply
  16. rahul

    Sir
    Mujhe something 8 month se chhale h bt thik nhi ho rhe h.
    Wo kadak ho gye h or funsi jese ho gye h.
    Jakhm jese ho gye h
    Ap kuch bataiye

    Reply
  17. Rampal

    Sir mere muh me 20 days se chhale ki samsya hai,aik thhik hota hai ,uske turant bad dusra aaja ta hai ,kabhi- kabhi halka throat me pain hota hai ,please advise good treatment

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *