The ‘National Animal of India’ in Hindi – भारत का राष्ट्रीय पशु

By | July 16, 2017

बच्चों क्या आप जानते है National Animal of India in Hindi में क्या है ? जानिए हमारे Bharat ka rashtriya pashu kaun sa hai और उससे जुडी जानकारी अपनी भाषा में | अगर आपको इसके बारे में जानकारी नहीं है तो आप इस essay को जरुर पढ़े | यह पशु जंगलों में रहता है और काफी ताकतवर होता है | परन्तु इनकी population में काफी कमी आई है | तो आइये जानते है इससे जुडी कुछ जानकारियाँ :

National animal of India in Hindi is Tiger

National animal of India (राष्ट्रीय पशु) =  Tiger (बाघ )

India का राष्ट्रीय पशु का दर्जा “बाघ” को दिया गया है। इसे English में tiger कहते है । इसका scientific नाम “पेंथेरा टिग्रिस” है। जंगल में रहने वाला एक मांसाहारी जानवर होता है। मांस बाघ का सबसे पसंदीदा भोजन होता है। यह बिल्ली (cat) के परिवार से सम्बद्ध रखता है इसलिए दिखने में भी ये बिल्ली की तरह हीं होता है। इनका शरीर बहुत हीं strong होता है।

बाघ के body का color पीला और हल्का भूरा रंग का होता है जिसपर काले रंग की धारियां बनी होती हैं। इनके  वक्ष (chest) के अन्दर का part व इसके पैरो का color white होता है। इनकी  tail लम्बी होती है और इसके 4 पैर होते हैं। इसके पैर के पंजों में नुकीले nails होते हैं। बाघ का height लगभग 4 feet के आस पास होती है और जब यह अपने दोनों पैंरों पर खड़े हो जाते है तो यह  13 feet तो हो सकते हैं और इसकी वजन भी लगभग 300 kg तक की होती है। अपनी नस्लों  में यह सबसे खतरनाक और ताकतवर जानवर होता है। चूँकि बाघ को भारत का राष्ट्रीय पक्षी का दर्जा दिया गया है इसलिए भारत में बाघ का शिकार पर ban लगा दिया गया है।

बच्चो आप  National fruit of India और भारत के राष्ट्रीय पेड़ के बारे में यहाँ पर जरुर पढ़े |


यह एशिया के लगभग सभी भागों में पाया जाता है परन्तु सबसे ज्यादा India, Nepal,  कोरिया, अफगानिस्तान व इंडोनेशिया में बाघ देखने को मिलता है। इन देशो  में बाघ अधिक तादाद में पाया जाता है ।

चीतल, जंगली सूअर, गाय – भैंसे , जंगली हिरण, और सभी  पालतू जानवर बाघ  का आहार होता है। इनको  जंगल , दलदली क्षेत्र और field में रहना ज्यादा पसंद आता है। इसे ज्यादातर अकेले रहना पसंद आता है। हर तरह के बाघों का अपना एक अलह हीं fix area होता है वे अपने हीं area तक शिकार भी करता है। बाघ काफी तेज दौड़ता है लेकिन वजन ज्यादा होने के वजह से ये जल्दी थक भी जाता है । यही वजह है की यह काफी दूर तक शिकार के पीछे भाग भी नहीं पाता है। Tiger ज्यादातर छिप कर शिकार करता है। शिकार करते time ये झाड़ियों के बीच में इस तरह से छिपा रहता है कि इसके body पर के काले रंग के धार के वजह से शिकार इसे देख हीं नहीं पाता है।

बाघिन का लगभग साढ़े तीन month तक का Pregnancy period होता है और एक बार में ये 2 से 3 बच्चे को जन्म देती हैं। इनके बच्चे शिकार करना अपनी माँ (बाघिन) से हीं सीखते हैं। लगभग ढाई साल अपनी माँ के साथ रहने के बाद यह खुद से शिकार पर निकलते हैं |

घ के बच्चे अकेले घुमने लगते हैं ।

Facts about Tiger / बाघ से जुडी कुछ रोचक तथ्य

  • इनकी में सुनने, सूँघने व देखने की capacity बहुत अधिक होती है ।
  • एक बाघ लगभग 19 से 20 years तक जीवित रह सकता है ।
  • यह हमेशा पीछे से छिप कर हीं किसी पर attack करता है ।
  • यह दिन में किसी भी छांव वाली जगह पर सोता हैं और रात को शिकार करता हैं ।
  • यह बहुत हीं संकेंद्रण और शान्ति से अपना शिकार करता है ।
  • यह बहुत लम्बी लम्बी छलांगे लगा सकता है।
  • एक भाग का weight 250 से 300 kg तक हो सकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *