The National Highway act 1956 in Hindi – राष्टीय राजमार्ग

By | May 12, 2017

Kya aapko malum hai the National Highway Act jo ki 1956 mein lagu hui thi? Janiye isse judi jankari, rules, guidelines aur road maintenance se judi details ke bare mein. National Highway जिसे लोग NH या राष्ट्रिय राजमार्ग कहा जाता है यह देश के शहरों को जोड़ने का मुख्य मार्ग होता है | यह देश में जाल की तरह फैला होता है | इस राजमार्ग का देख रेख एवं मरम्मत केंद्र सरकार के द्वारा किया जाता है | इस राजमार्ग को व्यवस्थित रखने के लिए सरकार के द्वारा कई प्राधिकरण किया गया | इन सभी प्राधिकरण में एक प्राधिकरण राष्ट्रिय राजमार्ग प्राधिकरण 1956 भी सम्मिलित है | क्या आप जानते है इस प्राधिकरण के बारे में, अगर नहीं तो आज हम आपको बताते है इस प्राधिकरण के बारे में |

National Highway act 1956 of India in Hindi

National Highway act 1956 भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग के क्षेत्र में 1956 में बनाए गये अधिनियम को कहा जाता है | भारत सरकार द्वारा कई क्षेत्रो में अधिनियम का शुभारम्भ किया गया जिसमे से एक यह भी शामिल है | National Highway act 1956 कई highway को nationalised करने के उद्देश्य से इस act को पारित किया गया था | तत्पश्चात इस acts के अंतर्गत ही किसी भी highway को national highway होने का दर्जा प्राप्त होता है | इस act के अनुसार 20,000 से अधिक आबादी वाले क्षेत्र को शहरी क्षेत्र का दर्जा दिया जाता है, और इस क्षेत्र से गुजरने वाले मुख्य रास्ते को national highway का दर्जा दिया जाता है |

Highways को National Highways की घोषणा के लिए जरुरी शर्त

  • अगर कोई highway किसी नगरपालिका क्षेत्र (शहरी क्षेत्र) से होकर गुजर रही है तो उसे national highway का दर्जा दिया जाता है |
  • इस अधिनियम के तहत केंद्र सरकार किसी भी राजमार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग का दर्जा दे सकता है |

National Highway संघ में निहित करने के लिए इस अधिनियम के तहत निम्नलिखित प्रयोजन शामिल किये गये है

  • राष्ट्रीय राजमार्ग के लिए चिन्हित भूमि का स्वामित्व होना अनिवार्य है |
  • इस अधिनियम के तहत national highway पर bridges, culverts, tunnels, causeways, carriageways एवं अन्य किसी प्रकार का निर्माण किया जाता है |

Responsibility for Maintenance

इस अधिनियम के अनुसार भारत में निर्मित सभी national highway का रख रखाव केंद्र सरकार द्वारा किया जाता है और अगर केंद्र सरकार चाहे तो national highways का मरम्मत और रख रखाव का जिम्मेदारी राज्य से गुजरने वाले राज्य सरकार को दे सकती है |

राजमार्ग का दिशानिर्देश / Guidelines

इस act के तहत राज्य में स्थापित राजमार्ग का निर्माण एवं दिशानिर्देश केंद्र सरकार के द्वारा राज्य सरकार को दिया जाता है | केंद्र सरकार के द्वारा दिए गये दिशानिर्देश के अनुसार राज्य सरकार राजमार्ग का कार्य कर सकती है | राज्य सरकार केंद्र सरकार के इजाजत के बिना किसी प्रकार का कार्य नहीं कर सकती |

राजमार्गों पर दी गई सेवाओं के लिए शुल्क / Services & Charges

राजमार्ग पर मौजूद घाटी, पुल या सुरंगों का इस्तेमाल के लिए केंद्र सरकार, सरकारी राजपत्र में अधिसूचना के द्वारा शुल्क का निर्धारण करती है | इस शुल्क का संग्रह toll tax के रूप में किया जाता है |

और अधिक विर्सतित जानकारी के लिए आप www.nhai.org/act1956.htm इस web-site पर जा सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *