National Song of India – वन्दे मातरम

By | December 5, 2016

Do you know the national song of India? It’s Vande Mataram. Janiye isko kisne likha, iska meaning, history apne Hindi language mein – जानिए अपनी देश की गीत के बारे में | स्वतंत्र शासन के लिए एक लंबे लड़ाई  के बाद भारत को सन 1947 में 15 अगस्त के दिन British rule से आजादी मिल गई थी । आज़ादी के बाद स्‍वतंत्रता की लड़ाई पर एक गीत लिखी गई जिसे “वंदे मातरम्” के नाम से जाना जाता है । Original “वंदे मातरम्” song में total 6 पद हैं। starting में इसके केवल 2 ही पद लिखे गए थे जो की 12 लाइनों को मिलकर बना था और इन 12 लाइनों को संस्कृत में लिखा गया था । starting के दोनों पदों में सिर्फ मातृभूमि की वन्दना की गई है । गीत के बाकी के 4 पद बांग्ला भाषा लिखा गया था ।

National Song of India in Hindi

“वंदे मातरम्” गीत के starting के दो पद को आधिकारिक तौर पर भारत की आजादी के बाद 1950 में भारत के राष्ट्रीय गीत के रूप में एलान किया गया था ।

“वंदे मातरम” गीत को सन 1882 में बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय द्वारा उनके उपन्यास Anandamath में लिख गया था । इस उपन्यास में सन्यासी विद्रोह (Sannyasi Rebellion) की घटनाओं के बारे में  लिखा गया है। बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय की “आनंद मठ” में “वन्दे मातरम्” गीत को “भवानन्द” द्वारा गाया गया है। “वन्दे मातरम्” गीत को पहले Bengali and Sanskrit में लिखा गया था।

बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय जी ने नव स्थापित कलकत्ता विश्वविद्यालय से स्नातक तक की पढ़ाई की उसके बाद वे एक सिविल सेवक के रूप में ब्रिटिश भारतीय सरकार में शामिल हो गए। उसके बाद बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय एक जिला मजिस्ट्रेट बने और बाद में एक जिला कलेक्टर । चट्टोपाध्याय जी को starting से हीं भारतीय और बंगाली इतिहास में हो रही घटनाओं में रुचि थी ।


“वन्दे मातरम्” का मतलब होता है – “मैं तेरा धन्यवाद, माँ” । लेकिन श्री अरबिंदो द्वारा इसका अंग्रेजी अनुवाद किया गया तो “वन्दे मातरम्” का मतलब  “मैं तुम्हारे आगे झुकता हूँ, माँ” बताया गया । जदुनाथ भट्टाचार्य ने इस कविता के लिए एक धुन (tune) बनाया था।

सन 1896 में रवींद्रनाथ टैगोर द्वारा एक राजनीतिक संदर्भ में इस गाने को पहली बार गाया गया था। उसके बाद 5 साल के बाद Dakhina charan sen द्वारा कलकत्ता में कांग्रेस के एक अन्य सत्र में इस गीत को गाया गया था। उसके बाद सन 1905 में कवि Sarala Devi Chaudurani द्वारा बनारस कांग्रेस सभा में इस गीत को गाया गया था।

सन 1907 में Stuttgart (Germany) में भीकाजी कामा द्वारा  भारत के पहला राष्ट्रीय ध्वज (तिरंगा) बनाया गया था जीसके बीच में “वंदे मातरम्” लिखा था । Hiralal Senmade भारत की पहली राजनीतिक फिल्म थी जिसकी ending “वंदे मातरम्” के chant के साथ हुई थी ।  

National Song / राष्ट्रीय गीत

वन्दे मातरम्।
सुजलाम् सुफलाम् मलय़जशीतलाम्,
शस्यश्यामलाम् मातरम्। वन्दे मातरम्।। १।।

National Song of India written in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *