नींबू की खेती करे वैज्ञानिक तरीके से

By | August 11, 2016

क्या आप नींबू की खेती करने की सोच रहे हैं? जानिए इससे जुडी जानकारी, कैसे आप 1 acer से ही लाखो कम सकते है और कैसे करे इसकी  उन्नत और वैज्ञानिक खेती, कीड़ो से बचाव | पूरे world में नीबू (lemon) का सबसे ज्यादा उत्पादन India में हीं होता है । इसलिए India के किसान चाहे तो निम्बू की खेती कर के अच्छा पैसा कमा सकते है । यदि निम्बू की खेती को कृषि वैज्ञानिक द्वारा बताए गए तरीके से किया जाये तो किसानो को अच्छी उपज मिल सकती है ।  Jharkhand, Maharashtra, Andhra Pradesh, Tamil Nadu जैसे states में निम्बू की काफी अच्छी पैदावार होती है | इसमें सुरुवाती से ले कर उत्पादन तक कम पूंजी लगती है और अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है | तो चलिए जानते है निम्बू की खेती से जुडी जानकारी विस्तार में |

How to start Lemon Farming - Kaise kare nimbu ki kheti

नींबू की खेती कैसे करे / How to Start Lemon Farming

मैं हमेशा suggest करता रहा हूँ की अगर आप agriculture से जुड़ा कोई business करना चाहते है और अगर आपके पास 1 से 5 acer तक की जमीन है तो proper training ले कर इसमें जम जाइये | तो अगर आपके पास खली पड़ी हुई कम से कम 1 acer की land हो तो आप lemon farming का business अपने India में ही कर के अच्छा profit कम सकते है | सुरुवात में भले ही आपको 2-3 साल का wait करना पड़े पर उसके बाद आप आसानी से हर साल लाख रूपया बैठे बैठे  कमा सकते हैं | तो चलिए जानते है कैसे आप भी निम्बू की उन्नत खेती कर के खुद का agriculture business setup कर सकते हैं |

नींबू की खेती के लिए भूमि  / Land Selection

नीबू की खेती को लगभग सभी तरह की भूमि पर Successfully किया जा सकता है । लेकिन फिर भी दोमट मिट्टी वाली भूमि जहाँ जल-प्रणाली का उत्तम प्रबंध किया गया हो उसे हीं निम्बू की खेती के लिए सबसे अच्छा माना गया है । निम्बू की खेती के लिए भूमि की गहराई लगभग 2.5 मी.या से ज्यादा होनी चाहिए और इसका ph मान लगभग 7.0 तक होना चाहिए तभी निम्बू की अच्छी वृद्धि और उपज मिलती है । ऐसी मिट्टियाँ और ऐसा area जहाँ पर पानी जमा हो जाता हो उसे नींबू की खेती के लिए सही नहीं माना जाता है ।

निम्बू की खेती के लिए जलवायु / Suitable Climate for Citrus Cultivation

निम्बू की खेती के लिए Warm और moderate humidity, पाला और जोड़ की हवा से मुक्त वाले area को अच्छा माना जाता है । निम्बू की अच्छी वृद्धि और इसके अच्छे उत्पादन के लिए 20-32 डिग्री से. तक का temperature की आवश्यकता होती है साथ हीं इसकी खेती में औसत वार्षिक वर्षा 750 mm से ज्यादा नहीं होनी चाहिए ।

निम्बू की उन्नत किस्मे / Varieties of Lemon

वैसे तो आज market में कई तरह के निम्बू available हैं जिसकी अच्छी demand है | अगर आप निम्बू की खेती को एक बड़े business model  में ले जाना चाहते है तो यह काफी जरुरी है की आप सही किस्म के निम्बू का चुनाव करे ताकि आपको अधिक से अधिक मुनाफा मिले | इनमे से कुछ lemon hybrid भी होते है जो अच्छी पैदवार देतीं हैं |

 Varieties of Lemon

  • कागजी निम्बू – इसकी Wide popularity के वजह से इसे खट्टा नीबू का समानार्थी माना जाता है।
  • प्रमालिनी निम्बू – इस किस्म के निम्बू bunch में फलते है, और इसके एक गुच्छे में लगभग 3 से 7 तक फल लगते हैं । प्रमालिनी निम्बू,कागजी नीबू के compare में 30% ज्यादा उपज देती है ।
  • विक्रम निम्बू  इसके फल भी bunch में हीं फलते है । एक bunch में लगभग 5 से 10 फल लगते है ।
  • चक्र धर निम्बू  इस निम्बू में बीज नहीं होते है और इसके फल से लगभग 65% रस निकलता है ।
  • पि.के. एम् -1 – यह भी ज्यादा उत्पादन वाली किस्मो में से एक है । इसके फलो से लगभग 50% रस प्राप्त हो जाते है ।

ऊपर दिए गए निम्बू के किस्मो के अलावा साईं सर्बती, सीडलेस निम्बू , भी निम्बू के उन्नत किस्मो में से एक है ।

बीज रोपण 

नींबू के पौधों को रोपने का सबसे सही समय June से July तक का होता है और अगर सिंचाई का प्रबंध सही से किया जाये तो इसकी रोपाई February और March में भी की जा सकती है । पौधे को रोपने से पूर्व हर एक गड्ढे की मिट्टी में लगभग 20 kg गोबर की खाद और 1 kg सुपर फ़ॉस्फ़ेट को अच्छी तरह से mix कर दें । पौधों को रोपने समय हर एक पौधों के बीच का distance लगभग  20-20 cm का space होना चाहिए ।

खाद प्रबंधन 

नींबू की खेती में सड़ी हुई गोबर की खाद को हर साल दिया जाता है । पहले साल में 5 kg दुसरे साल में 10 kg तीसरे साल में 20 kg और इसी तरह हर साल पिछले साल का दोगुना खाद देना होता है । निम्बू की खेती में Organic manure साल में दो बार पड़ता है । पहला december और January में और दूसरा April और May में । जो वृक्ष फल देने वाले होते है ऐसे वृक्ष में 60 kg गोबर की खाद, 2.5 kg अमोनियम सल्फ़ेट, 2.5 kg सुपर फास्फेट और 1.5 kg म्यूरेट ऑफ़ पोटाश का use करना चाहिए ।

सिंचाई

निम्बू की खेती में सालो भर नमी की जरुरत होती है । वर्षा के मौसम में सिंचाई की जरुरत नहीं होती है । ठंड के समय 1 month के interval पर सिंचाई और गर्मियों में 10 days के interval पर सिंचाई करना होता है । 

निम्बू का रोग व कीट से बचाव  / Tips to Control Disease and Pest

 

नीबू का सिला – यह कीट नयी पत्तियों और कलियों से रस चूस जाते है । इस कीट के प्रकोप से   पत्तियां गिरने लगती है । इस कीट से एक तरह का चिटचिटा पदार्थ निकलता है जिस पर काली मोल्ड जम जाती है । इस कीट के नियंत्रण हेतु इससे प्रभावित सभी parts को काट कर जला दे ।

निम्बू कि तितली – यह कीट नर्सरी के पौधों को काफी नुकसान पहुंचाती है । इसके green color के इल्ली पत्तियों को खा जाते है । यह किट April से May तक और August से October तक ज्यादा लगते है । निम्बू कि तितली से नियंत्रण के लिए अपने खेतो में नीम के काढ़ा का छिडकाव micro झाइम में mix कर करना चाहिए ।

माहू कीट – माहू कीट december से march तक ज्यादा लगते है । यह कीट फूलो व पत्तियों के सारे रस चूस जाते है जिससे फूल व पत्ते दोनों हीं कमजोर होकर गिरने लगते है । इस कीट के नियंत्रण हेतु खेतो में नीम का काढ़ा का छिड़काव करना चाहिए ।

कैंकर रोग – यह रोग विशेष रूप से निम्बू पर हीं लगते है । इस रोग के लगते हीं पहले निम्बू के पत्तियों पर light yellow color के धब्बे होने लगते है और फिर वे धब्बे आहिस्ता आहिस्ता dark brown color के हो जाते है । इस रोग के बढ़ने से शाखाएं और फल दोनों हीं ग्रसित हो जाते है । इस रोग के नियंत्रण हेतु रोग से ग्रसित शाखाओ को पौधों से छाट कर अलग कर देना चाहिए । उसके बाद कटे हुए सभी शाखाओ पर ग्रीस लगा दिया जाता है । इसके बाद बरसात start होते हीं माइक्रो झाइम और नीम का काढ़ा का छिड़काव किया जाता है  । 

गोदार्ती रोग – यदि इस रोग का आक्रमण तने पर हो तो इस रोग को गोदार्ती तना बिगलन कहा जाता है । इस रोग के प्रकोप से छाल में से गोंद की तरह एक पदार्थ निकालता है जिससे छाल brown हो जाती है और उसमे दरारे होने लगती है । इसके रोग से बचने हेतु बहुत से उपाय है जैसे की :-

  • खेत में से जल निकलने का अच्छा प्रबंध करना होगा और साथ हीं इस बात का भी ध्यान रखना होगा की सिंचाई का पानी direct तने के संपर्क में नहीं आने चाहिए ।
  • इस रोग से ग्रसित भाग को किसी तेज़ धार वाले चाकू से छिल कर फिर उसके ऊपर से ग्रीस लगा दें ।
  • नीम का काढ़ा या मिट्टी का तेल(Kerosene) का भूमि में छिड़काव करे । 

विष्णु रोग – इस रोग के वजह से पत्तियों पर हरे रंग की महीनता नज़र आने लगती है । इसके अलावा पत्तियां और टहनियां dry होकर सुख जाती है । इससे बचना है तो नीम के काढ़ा को पूरे खेत में छिड़क दें ।                      

फसल की  तुड़ाई  / Picking 

खट्टे नींबू के पौधों में एक साल में कई बार फल लगते है और इसके फलो को तैयार होने में लगभग 6 month का time लगता है । जब फल पक कर हरे रंग से पीला रंग हो जाता है तब उसकी तुड़ाई start कर दी जाती है ।

उपज / Production

यह अक्सर पुचा जाता है की निम्बू के पेड़ पर कितने साल से फल लगने लगते है | वैसे तो 1 साल के बाद ही निम्बू के छोटे-छोटे फल लगने लगते है पर वह किसी काम का नहीं होता है |  3 से 4 साल के होने तक निम्बू के पेड़ में अच्छी मात्र में निम्बू फल लगने लगते है | और 5 से 6  साल की उम्र वाले पौधो से सालाना 2,000 से 5,000 निम्बू के फल प्राप्त किये जा सकते है ।

आज के date में लगभग सभी सहरों में 10 रूपए (INR) में 3 से 5 piece ही निम्बू मिलता है |

उस हिसाब से अगर आप देखे तो किसान भाई आसानी से हर एक piece पर Rs 0.75 से ले कर Rs 1.00 मिल सकते हैं | अगर किसान भाई कम ही मान कर चले और हर एक lemon के piece का price Rs 0.75 ही लगाये तो, कुछ इस प्रकार से profit margin आएगा :

  • Average Annual Production of Lemon from one Tree: 3,000 piece
  • Total no. of Lemon Trees in One Acer of Land: 150 Trees
  • Total production = 4,50,000 Lemon
  • Total Sales (4,50,000 x Rs 0.75) = Rs 3,37,500

अब अगर मान कर चला जाये की सब मिल कर खर्चा maximum 1 लाख सालाना भी हो तो आप आसानी से Rs 2,00,000 कम से कम कम सकते है वो भी केवल 1 acer से | यह सही बात है की सुरुवात में आपको 3 से 4 साल तक का इंतज़ार करना होगा और investment भी थोडा होगा, पर अगर आप 4 से 10 साल तक का नजरियाँ ले कर चलते है तो आपको यह बैठा बैठाया on-going कम से कम 2 लाख आसानी से कम सकते है |

Agar aapke man mein aur kisi bhi tarah ka question ho Nimbu ke kehti se judi ya aur koi jankari share karna chahte hai to niche diye gaye form ke dwara comment jarur kare.

40 thoughts on “नींबू की खेती करे वैज्ञानिक तरीके से

  1. राजबीर सिंवर

    गुजरात में नींबू की कौन सी किस्म लगाई जाती है और कुमकाट किस्म के बारे में आपका क्या ख्याल है जी ।

    Reply
      1. Nemaram

        सर बाड़मेर के ककराला में निम्बू की खेती कर सकते है किया रिप्लाई करे

        Reply
    1. नावेद अली

      https://www.youtube.com/watch?v=N0BPmi2PF8k वेबसाइट पर जाएँ और विडियो देखें नीम्बू की खेती करने का सही तरीका दिखाया गया है फसल की देखरेख के बारे में बताया गया है ..

      Reply
  2. Paresh n devani

    Pl send me more information. I am going to plant 25000 trees in Rajasthan.

    Reply
  3. Parvesh

    Nimbu and chiku ki khet mein se kaun si kheti acchi hogi, please guide
    Parvesh insan
    SONIPAT, Haryana

    Reply
  4. Harikesh

    Nimbu ki kheti karni hai lekin meri jamin me pani bharta hai baris ke Samay upay batay

    Reply
    1. Bhagat Post author

      Tullu pump ke dwara khet se pani nikal sakte hai ya phir dhalan bana kar pani ko nikalne ka rasta banaiye

      Reply
  5. Ashutosh sharma

    Main jammu ka rehn bala hu
    Yaha temp 5%–se 35%tak rehta hai
    Kya main yahan chandan aur lemon ki kethi kar saka hu
    Please guide me

    Reply
  6. Ravindra singh sahil

    मधयप्रदेश में नींबू की कौन सी किस्म लगाई जाती है और कुमकाट किस्म के बारे में आपका क्या ख्याल है जी ।

    Reply
  7. Rahul tiwari

    Neebu ki bagwani sahi h kyonki uski marketing bahut aasan h aap kahi bhi sale kar sakte h

    Reply
  8. पंकज किशोर

    बिहार राज्य के मुज़फ्फरपुर जिले मौसंबी की खेती की जा सकती है क्या ? कृपया विस्तृत जानकारी दें ।

    Reply
  9. पंकज किशोर

    बिहार प्रदेश के मुज़फ्फरपुर जिले में निम्बुवर्गीय पौधों में कौन सा उपयुक्त होगा ? कृपया विस्तृत जानकारी दें ।
    इस विषय पर चर्चा के लिए फ़ोन नंबर भी दें।

    Reply
  10. Avinash Chandra Verma

    Sir neembu me phal nahi lg raha hai 3 year Ka tree send me solution email id

    Reply
  11. Rajendra

    Nibu ke visavaniya podhe kaha she parapat kite ja sakate ha me nibu ki kheti karana chahata hu

    Reply
  12. राम कुमार

    जी मे नींबू का बाग लगाना चाहता हु पर अच्छी किस्म की पोध कहाँ से मँगवा सकता हु

    Reply
  13. BABU LAL MALI

    5 sal ho gaye hamare nimbu ke plant par ek bhi nimbu nhi lag rhe kya kre btaiye

    Reply
  14. yudhisthir singh beniwal

    My land is situated near the border of Haryana Uttar pradesh and Rajasthan, in district Mathura . The PH value of soil is lying between 7 and 8. The Climate is not moderate ,the temp is 5 degree celsius in month of january and 47 degree celsius in june. Administratively ,we are under jurisdiction of Agra commissioner in uttar pradesh government.
    Inform me whether the lemon(NIMBO) plantation is a good option or not.

    Reply
  15. रूपेंद्र प्रधान

    जिला-बागपत,उ.प्र. में नींबू की कोनसी किस्म अच्छी और ज्यादा फसल देगी। कृपया बताएं।

    Reply
  16. रूपेंद्र प्रधान

    जब तक नींबू के पेड़ तैयार होंगे तब तक हम बीच की खाली जमीन में कौन कौनसी फसल की बुआई कर सकते हैं।
    और एक पेड़ से दूसरे पेड़ की दूरी कितनी होनी चाहिये?

    Reply
    1. हरेन्द्र सिंह राठौर

      उत्तर प्रदेश बरेली मंडल के बदायूं जिले में नींबू की फसल कर सकते हैं क्या
      एक एकड़ मे कितने पौधे लग जाते हैं?
      पेड़ से पेड़ की दूरी कितनी होनी चाहिए?

      Reply
  17. Pradexperience kedia

    I hv 3.5 yrs nimbu tree now guide how to develop further details information required

    Reply
  18. बिहारी पाटीदार

    बहुत बेहतरीन जानकारी…

    Reply
  19. गिरिश कुमार पारेता

    राजस्थान जिला बारां तहसील अंता में नींबू की कोनसी किस्म सही रहेगी ।

    Reply
  20. Yogesh

    Helo sir i am from haryana हमारी 3 एकड़ जमीन है जहा मिटटी बलुई है कया वहा पर नीबू की खेती की जा सकती है

    Reply
  21. Sushil Kumar dist -shamli U P

    Mai nimbu ki kheti karna chahta hu shuruat kaise karu

    Reply
  22. डॉ अनूप सिंह लोधी

    सर जी मेने अपनी खेती में 430 पोधे लगाये है दिनाक 8जुलाई 2016 में तो आप ये बताये की गर्मी में ज्यादा पानी नही है फिर हमे क्या करना चाहिए प्लीज़ बताये

    Reply
    1. Bhagat Post author

      starting phase में पौधे को अच्छी पानी चाहिये ताकि वो अच्छे तरह से विकसित हो सके, अगर किसी कारण गर्मी के समय पानी की कमी हो तो कोशिश करे के पौधे को छावं प्रदान करे ताकि गर्मी से बचाया जा सके और हर दिन पानी पटाने की कोशिश करे – आप चाहे तो water irrigation system का उपयोग कर के कम पानी में अच्छी पटाव कर सकते हैं

      Reply
  23. Shantesh Kumar Mishra

    I want to meet you and your team please give me your contact no or address

    Reply
  24. Vishnu Pratap Maurya

    Nimbu ke nursery lagate wakt kitane ak tree se dusare tree k bich kitane distance hone chahiye ….

    Reply
  25. राजेन्द्र गुर्जर

    नींबू का पौधा तैयार होने के बाद कितने सालो तक फल देता रहता है !

    Reply
  26. kewal Singh

    नींबू की बारामासी किस्म कौन-2 सी है। विस्तार पूर्वक प्लीज बताएं और हरियाणा में यह खेती कितनी कारगर है।

    Reply
  27. Sohan lal saini

    Sir nibu ke pode
    kha se milege

    Pli add

    Sohan lal haryana se did. Sirsa the. Ellenabad

    Reply
  28. tejas deshmukh

    sir maine feb 17 me limbu lagaye hai , ab us par kya dekhabahal karni chahiye taki garmi or dhup se ped kamjor na ho .

    Reply
  29. Chaudhary ishwar

    I want to grow leman in 1 acre land in gujarat dhanera

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *