Pacific Ocean Information, Facts in Hindi – प्रशांत महासागर

By | March 23, 2017

Kya Aapko malum hai ki Pacific Ocean ko aakhir hamari Hindi bhasa may kay bola jata hai. Janiye प्रशान्त महासागर se judi jankari, facts aur detail.  असल में यह Pacific ocean हमारी दुनिया का सबसे बड़ा समुद्र भाग है | इससे जुडी कई जानकारियाँ और कुछ रोचक तथ्य है जिससे आज आप रूबरू होंगे, तो चलिए बिना समय गवाए इसकी detail को जानने की कोशिश करते हैं |

Pacific Ocean information in Hindi

Pacific Ocean = प्रशांत महासागर

Pecific Ocean को हिंदी में प्रशांत महासागर कहा जाता है | प्रशांत महासागर अमेरिका और एशिया के बीच के जलमग्न भाग को कहा जाता है | सागरों के समूह को महासागर कहा जाता है एवं पृथ्वी पर मौजूद खारे पानी का सतत समूह को सागर कहा जाता है | पृथ्वी का 71% भाग जलमग्न है पृथ्वी के मात्र 29% भाग पर ही मनुष्य का जीवन व्यापन होता है |

Pacific Ocean या प्रशांत महासागर पृथ्वी पर मौजूद सभी महासागर में से सबसे बड़ा महासागर है | इस महासागर का विस्तार उत्तर में स्थित आर्कटिक महासागर से लेकर दक्षिण में दक्षिण महासागर, पूर्व में अमेरिका से लेकर पश्चिम में एशिया और ऑस्ट्रेलिया से घिरा हुआ है | इस महासागर का कुल क्षेत्रफल लगभग 165.25 million km2 है जो पृथ्वी के सतह का एक तिहाई हिस्सा है | प्रशांत महासागर के फिलिपींस के तट से पनामा तक की चौड़ाई 9,455 मील एवं बेरिंग जलडमरूमध्य से दक्षिण अंटार्कटिक तक की लम्बाई 10,492 मील है | इस महासागर की औसत गहराई 14,000 फुट है एवं इसकी अधिकतम गहराई लगभग 35,400 फुट है जो ग्वैम और मिंडानो नामक द्वीप के मध्य स्थित है |


पृथ्वी पर मौजूद भूमध्य रेखा Pacific Ocean को दो भागो में विभाजित करती है | भूमध्य रेखा से उत्तर की ओर स्थित प्रशांत महासागर के भाग को उत्तरी प्रशांत महासागर एवं भूमध्य रेखा से दक्षिण में स्थित प्रशांत महासागर को दक्षिण प्रशांत महासागर कहा जाता है | प्रशांत महासागर के किनारे एक जैसे नहीं है | इनके किनारे एक दुसरे से काफी अलग होते है | इसके पूर्वी किनारे पर पर्वतों का फैलाव है जिस कारण यहाँ का समुंद्री किनारा काफी सकरा है परन्तु पश्चिमी किनारा इसका विपरीत है, यहाँ कई सारे द्वीप, खाड़ी एवं डेल्टा है | प्रशांत के पश्चिमी किनारे पर कई बड़ी बड़ी नदियो का संगम है और इस किनारे पर लोगो की जनसंख्या काफी अधिक है और इस इलाके पर अच्छे अच्छे बंदरगाह भी है | प्रशांत महासागर का वास्तविक आकृति त्रिभुजाकार है और इस आकृति का आरम्भ बेरिंग जलमरुमध्य से हुआ है और यहाँ पर इसकी आकृति घोड़े के खुर के जैसा है | यहाँ पर कई ज्वालामुखीय पर्वत है जो छोटी छोटी पहाड़ियों के साथ मिलकर बहुत ही अद्भुत बेसिन का निर्माण करता है | प्रशांत महासागर का धरातल प्रायः समतल है |

प्रशांत महासागर में कई बड़ी बड़ी खाईया है, इसमें कुछ महत्वपूर्ण खाई निम्नलिखित है |

  • Tusearora – 32,644 foot
  • Rampa – 34,626 foot
  • Nero – 32,107 foot
  • Aldrich – 30,930 foot

प्रशांत महासागर में उत्तर, पूर्व एवं पश्चिम से होते हुए भूतल का सबसे कमजोर सतह गुजरता है एवं इस सतह पर प्रायः भूकंप एवं ज्वालामुखी आदि का उद्गार होता रहता है | यहाँ अभी भी कई ऐसे ज्वालामुखी है जो जीवित है एवं उनसे अभी भी लावा का निकासी होता रहता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *