Papita Ki Vaigyanik Kheti Jankari – पपिते की खेती

By | October 18, 2015

Aaj jante hai kis tarah se Papita ki vaigyanik kheti ki jai puri jankari ke saath |  पपीता की खेती करने से आपको कम खर्च में ज्यादा benefit हो सकता है। खाने में स्‍वादिष्‍ट लगने वाला फल पपीता में विटामिन ए, सी और इ पाया जाता है। पपीते में  पपेन नामक पदार्थ पाया जाता है जो अतिरिक्त चर्बी को गलाने के काम आता है। पपीता सबसे कम समय में तैयार होने वाला फल है जिसे पके तथा कच्चे दोनों रूप में प्रयोग किया जाता है। इसलिए इसकी खेती कि लोकप्रियता दिनों दिन बढ़ती जा रही है।  To chaliye aaj jante hai kis tarah se Papite ki kheti ki suruwat ki jaye.

Papita ki kheti ki jankari

Papita Ki Vaigyanik Kheti kaise kare

वैसे तो पपिते की खेती भारत में किसी भी राज्य में की जा सकती है परन्तु छत्तीसगढ़ के किसानो को पपीते की खेती करने की सलाह दी जाती है क्योंकि वहां का तापमान  पपीते के मुताबिक है। पपीता के सफल खेती के लिए 10 डिग्री से. से 40 डिग्री से. तक का तापमान उपयुक्त होता है ।

Agar aap koi kheti ki business karne ki soch rahe hai to mushroom business aur tamatar farming ki janjari yahan par pratap kar sakte hain.

अधिक ठण्ड से खेती को नुकसान पंहुचा सकता है जिससे पौधा और फल दोनों ख़राब हो सकता है। देश के कई राज्यों में जैसे  बिहार, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, असम, उत्तर प्रदेश , पंजाब , हरियाणा,और  दिल्ली में इसकी खेती कि जा रही है । किसान स्वयं और राष्ट्र को आर्थिक दृष्टी से लाभांवित कर सकते है इसके लिए तकनिकी रूप में निम्न बातो का ध्यान रखना चाहिए जैसे:

 

मिट्टी का चयन / Selection of Soil

पपीता लगाने के लिए भूमि का अच्छे से त्यारी करना चाहए, कृषि वैज्ञानिक पपीता के अच्छी उपजाव के लिए और अधिक उत्पादन के लिए बालुई दोमट मिट्टी की सलाह देते है जिसमे जल निकास कि व्यवस्था अच्छी हो । भूमि की अच्छे से जुताई कर लेना चाहए।गहरा जुताई करने के बाद खेत से सारे खर-पतवार को अच्छे से साफ़ कर लेना चाहए।

नर्सरी और बिज का चयन / Seed Selection

पपीता के उत्पादन के लिए नर्सरी में पौधों का उगाना बहुत महत्व रखता है। जिस जगह पर नर्सरी हो उस  जगह कि अच्छी जुताई करके समस्त कंकड़ – पत्थर निकाल कर साफ कर देना चाहिए ।

बीज कि मात्रा एक हे.के (hectare) लिए 500 ग्राम काफी होती है बीज अच्छे से पका हुआ , अच्छी तरह सुखा हुआ और शीशे के बोतल में रखा हो जिसका मुहं ढका  हो और 6 महीने से पुराना न हो। संकर (hybrid) किस्म की बिजे उत्पादकता और गुणवता दोनों ही तरह से अच्छा होता है। ऐसा माना जाता है की संकर बीजो से उत्पन सभी पौधे जादातर मादा या उभयलिंग होता है।

पपीते के दो पौधों के बिच कम से कम 2 मीटर की दुरी होनी चाहए। पपीता बोने के लिए त्यार उचित माप के गढ़ढ़ो के मिटटी को 15 से 20 दिनों के लिए खुले हवा और धुप में रखने के बाद उसमे गोबर की खाद 10 kg, सुपर फास्फेट 200g, म्यूरेट ऑफ पोटाश 75g, और एन्डोसल्फान 50g,मिलाकर भर देना चाहये।अच्छे से पपीता का रोपन हो जाने से 5 से 6 महीने में फल आने की प्रक्रिया प्रारंभ हो जाती है।

किट पतंग से बचाव

जैसा की हम जानते है अगर किसी भी पेड़ या पौधे में कीड़े मकोड़े लग जाये तो वो पुरे पेड़ पौधे को नष्ट कर देता है। आमतौर पर माना जाता है की पपीता  में जादा कीड़े मकोड़े नहीं लगते है लेकिन फिर भी कभी कभी अगर जादा गर्मी या जादा ठंड होती है तो उसकी वजह से फल खराब हो सकता है। इसलिए किसानो के लिए ये जानना बहुत हीं जरुरी है की पपीता में  कीड़े मकोड़े , fungus , या फिर virus, किस कारण से लगते है और उनसे बचने की विधि क्या है।

अपने पपीते के फसल को वेज्ञानिक तरीके से बचा सकते है:-

  • लाल मकड़ी किट
  • माहू किट

ये दोनों किट फसल को नुकसान पहुचाने से बचाते है।

नुकसान पहुचाने वाले किट

  • आद्रगलन किट- ये एक fungus दवारा होने वाला रोग है। इस रोग में पौधे का तना प्रारंभिक रूप से गल जाता है। इस रोग से बचाव के लिए बिज का भली भांती उपचारित होना जरुरी है।
  • मोज़ेक किट – ये पपीते का virus से होने वाला एक रोग होता है। इससे बचने के लिए प्रभावित पौधे को उखाड़ कर फेंक देना चाहए।

पपीते की खेती की कुल प्रतिशत में से केवल 0.08% हीं निर्यात(export) किया जाता है बाकीं अपने ही देश के उपयोग में लाई जाती है। अगर आप papita ke kheti के बारे में सोच रहे है तो आप इसी विधि से खेती करे। इस खेती में आपको बहुत आमदनी होगी।

Jap Papite ke phal bade aur tayyar ho jaye (kaccha ya paka hua) to aap ise sidhe najdik ke market mein sell kar skate hai aur acchi aamdani kama sakte hain.  ध्यान रहे की उचित समय में पपिते की फल को तोड़ कर उसे सब्जी मंडी (sabji mandi) में बेच दिया करे ताकि फल ख़राब होने से पहले हे बिक जाये |

Related posts:

25 thoughts on “Papita Ki Vaigyanik Kheti Jankari – पपिते की खेती

    1. Bhagat Post author

      Bhai Qamre,

      App pehele yeah malum kar le ki jo jamin aapke pass hai wo papite ke kheti ke layak hai ya nahi. Waise jaydtar jagah par papite ki kheti aasani se ki jaa sakti hai. Baki sabhi jaankari upar di gayi hai

      Reply
  1. Ashok kumar lokra

    Mughe papita ki kheti karni hai, aur detail mein jankari dijiye

    Reply
    1. Ashok Murmu

      Hi. Sir mere pas lal miti hi kya is miti me papite ki kheti ki ja sakti hi r papite ki ache kism k bare me jankari de

      Reply
  2. subhash yadav

    Muje papita ki kheti karni h.to aap ye bataye ki kab iski bijaye ki jaati h.or konsa beej accha ha.

    Reply
  3. Bheem Singh

    Mujhe papite ki kheti krna hai ise kis time lagaya jata h or konsa beej sahi h

    Reply
  4. vishwanath kumar

    mujhe papita ki kheti karni hai kaun sa bij achchha hoga jankari de

    Reply
  5. Balram sharma

    Dear sir
    mai papita ki kheti karna chahata hu
    mere khet ki metti domat bluee hai pani ka therau bhi nahi hota hai mujhe puri jaankari de iske kheti kis month mai ki jati hai narsaari ki buai kb hoti kism kaun she boe puri jaankari batao

    Reply
  6. rakesh kumar

    muje papita ki kheti. karni ha. jaipur me. lekin mere mitti kathor aur chikni ha. please. sahi salah. de.

    Reply
  7. narendra kumar saini

    muje papita ki kheti karni h alwar rajasthan me upyut sujav digiy

    Reply
  8. dharmendrasen gram

    Sir kya main papita ki kehti madhya pradesh me bhi kar sakta hoon, ise kab lagana chahiye

    Reply
  9. pradeep rathi

    Sir mai kagzi nimboo ki khetti krna chahta hu so plz mujhe iski Puri jankari detail me bataye ki iske krne SE fayda h ya nhi

    Reply
  10. Sudama dongrdiye

    I am sudama dongrdiye from Madhya Pradesh, betul multai.
    Mai ek farmar hoon or mujhe unnat tarike se kheti karne ke liye es tarha ki jankari intrnet par milne se mai or mere kisan bhaiyo sahi labh milega.thank you

    Reply
  11. Yogesh Singh

    Sir
    papite ke kheti ke liye buaae kabse chalu kiya jay

    Reply
  12. Rahul meena semri harchand

    Bhai yoges papita ki kheti krne ka abhi sahi time h aap papita ke bijo se phod taiyar kr lo aur jese hi barish hoti h aap us phodo ko khet me rop de aur time time pr dawa ka chirkab krte rhe ok

    Reply
  13. lalba jadhav

    mai maharatra se hu muje papite ki kheti karni h to mai konse product ka bij istemal karu

    Reply
  14. Dharmendra kushwah

    Mujhe v papite ki kheti jald se jald karni hai kripa mujhe jankari dene ki kripa kare.

    Reply
  15. Asad Malik advocate

    Pilibhit uttàr Pradesh se Hon papite ki kheti karna h kirpya jankari De

    Reply
  16. Kanahai kumar singh

    Sir ma tulsi ki kheti karna chahata hu 2 acre me ma bihar vaishali ka rahna bala hu bihar ma tulsi ka khariddar ka bara ma jankari da

    Reply
  17. raju morlay

    taivan papita ki jankari avam per acure lagat benifit kitna hoga jankari hindi me dene ki kirpa kare ?

    Reply
  18. Rahul kr menariya

    Maine 5 plant papita ka laga rkha hai or unko 2 year ho gaye hai or un plant k ek bhi phool nahi laga hai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *