Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana (PMKSY) in Hindi

By | September 8, 2017

Jo kisan bhai PMKSY se judi scheme ke bare mein Hindi mein jankari janana chahate hai we ise padhe. जानिए इस योजना के guidelines ताकि सिंचाई आसानी से हो | देश की समस्या एवं लोगो की परेशानी के लिए सरकार के द्वारा कई प्रकार के योजनाओ का आरम्भ किया गया है | सरकार के द्वारा चलाए जा रहे योजनाओ में कुछ योजना मुख्यमंत्री द्वारा राज्य का विकास के लिए चलाया जा रहा है तो वही भारत में कई ऐसे योजनाओ का भी आरम्भ किया गया है जो प्रधानमंत्री के द्वारा चलाया गया है जिसमे एक PMKSY – प्रधान मंत्री कृषि सिचाई योजना (Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana) भी शामिल है | इस योजना का आरम्भ प्रधानमंत्री के द्वारा किसानो को मदद के लिए किया गया | आइए जानते है इस योजना से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में |

pmksy youjana details in hindi

PMKSY Scheme Detail

प्रधानमंत्री कृषि सिचाई योजना भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा 1 july 2015 को आर्थिक मामलों के मंत्रिमंडल समिति (Cabinet Committee on Economic Affairs) के बैठक में इस योजना का ऐलान किया गया | इस योजना कृषि उत्पादकता में सुधार एवं देश में संसाधनों का बेहतर उपयोग सुनिश्चित करने के लिए आरम्भ किया गया है | इस योजना के अंतर्गत प्रधानमंत्री के द्वारा कृषि क्षेत्र में विकास के लिए पाच वर्ष में Rs 50,000 करोड़ का आवंटन किया गया है | जिसके अंतर्गत खेती के लिए मानसून पर निर्भरता को कम करना | सरकार किसानो के हर खेत तक सिचाई की उत्तम प्रबंध करने के लिए इस योजना की स्वीकृत दी जिसके अंतर्गत तीन मंत्रालय – जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा पुनरुद्धार मंत्रालय, ग्रामीण विकास मंत्रालय तथा कृषि मंत्रालय के विभिन्न जल संरक्षण, संचयन एवं भूमिजल संवर्धन तथा जल वितरण सम्बन्धित कार्यो को संयुक्त रूप से कार्य करने को कहा गया है | इस योजना का मुख्य सलोगन, “हर खेत को पानी” है |

ठीक इसी तरह हमारे देश में और कई योजनाये चल रहीं है जैसे PMUY और Awas Yojana जिसके बारे में आप यहाँ पर और जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |

Purpose

पिछले कई दशको से किए जा रहे प्रयास के बाद भी भारत के अधिकांश कृषि भूमि मानसून आधारित भूमि है जिस कारण किसान खेती वर्षा के अनुरूप करते है | अगर किसी वर्ष वर्षा कम होती है तो इस परिस्थिति में किसानो को कई समस्या एवं नुकशान झेलना पड़ता है | इन समस्याओ को ध्यान में रखकर ही “प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना” की स्वीकृती दी गई, जिसका मुख्य उद्देश्य निम्नलिखित है :-


  • उपजिला / जिला स्तर तथा राज्य स्तर पर सिंचाई योजना का तैयार करना एवं किसानो के खेतों तक पानी को पहुँचाना |
  • पुरे देश में सिचाई की व्यवस्थ कर कृषि योग्य भूमि का विस्तार करना एवं उत्पाद को बढ़ाना |
  • सुनिश्चित सिंचाई का प्रबंधन करना |
  • जलाशय का निर्माण एवं पुराने जलाशयों का पुनःनिर्माण करना |
  • सतत जल संरक्षण प्रणाली प्रचलनों के साथ-साथ भूमि जल का सृजन करना |
  • पानी के बहाव को रोककर उपयोग में लाना तथा जल उपलब्धि के अनुसार फसलों का चयन एवं आधुनिक सिंचाई प्रणाली का इस्तेमाल करना |

Components and responsible Ministries 

इस योजना का सुचारू रूप से कार्य करने के लिए निम्न जिम्मेदार मंत्रालय एवं विभाग का चयन क्या है जिसके अंतर्गत कार्य को आसानीपूर्वक जल्द पूरा किया जा सकता है |

Accelerated Irrigation Benefits Programme (AIBP) – इस योजना के अंतर्गत सरकार इन्हें वर्तमान में चल रहे छोटे एवं बड़े राष्ट्रिय परियोजनाओ को जल्द पूरा करना |

Har Khet ko Pani – इसके अंतर्गत सरकार लघु सिंचाई के माध्यम से नए जल स्रोतों का निर्माण करना, जल निकायों की मरम्मत, एवं नवीकरण, पारंपरिक जल स्रोतों की क्षमता को बढ़ाना, निर्माण वर्षा जल संचयन संरचनाओं को मजबूत करना, जल निकाय के लिए जल प्रबंधन और वितरण प्रणाली में सुधार आदि कार्यो को करना |

Watershed – इसके अंतर्गत जल संचयन के लिए चेक डेम, नाला, तालाब आदि का निर्माण करना, क्षमता निर्माण, प्रवेश बिंदु की गतिविधियों, रिज क्षेत्र उपचार, जल निकासी लाइन उपचार, मिट्टी और नमी संरक्षण, नर्सरी स्थापना, वनीकरण, बागवानी, चरागाह विकास के साथ प्रभावी वर्षा का प्रबंधन करना |

Per drop more crop – कार्यक्रम प्रबंधन, राज्य / जिला सिंचाई योजना की तैयारी, वार्षिक कार्य योजना का अनुमोदन एवं निगरानी करती है साथ ही यह जल बचत प्रौद्योगिकियों, प्रथाओं, कार्यक्रम आदि पर जागरूकता अभियान, कार्यशालाओं का आयोजन आयोजन करती है और लोगो को जागरूक करती है | इसी योजना के अंतर्गत Drip Irrigation भी आता है, अतः जो किसान भाई अपने खेतों में टपक विधि से पानी पटाना चाहते हैं, वे इस plan का लाभ उठा सकते हैं |

इस योजना के बारे में अगर आप अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप http://pmksy.gov.in/ पर जानकारी प्राप्त कर सकते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *