Ruby Gemstone Facts and Benefits – माणिक रत्न

By | December 10, 2015

Ruby stone को Hindi में माणिक (Manik) या माणिक्य (Manikya) रत्न कहा जाता है । जानिए Ruby ke benefits और fayde के बारे में विस्तार से | माणिक्य रत्न दिखने में गुलाबी लाल (color) काहोता है इसलिए इसे लाल भी कहते है । Ruby stone  सूर्य ग्रह को कम करता है साथ हीं ये अच्छे स्वास्थ्य (good health) और शक्ति भी प्रदान करता है। Ruby पर सूरज  की पहली किरण पड़ते हीं अगर उससे लाल रंग बिखरने लगते है तो उस ruby को सर्वोत्तम माना जाता है। माणिक्य को अंधेरे में रखने से भी उससे सूरज के जैसे प्रकाश होता है। अगर किसी के साथ अनहोनी घटना होने वाली है तो माणिक्य का रंग खुद ब खुद बदलने लगता है । माणिक्य (ruby) रत्न सिंह राशी (Singh Rashi / Leo) वालो के लिये फायदेमंद होता है ।

Ruby Stone (रूबी) benefits

माणिक्य के फायदे / Benefits of Ruby Stone

Manik Ratna ko pahnane ke anek fayde hai jo ki niche di gayi hai. Sabse bada fayda yah hai ki insaan mein ek nai energy aati hai jise sahi disha mein le jaa kar accha future bana sakte hain. There are several benefits of Ruby stone that is mentioned below:


  • माणिक्य(ruby) रत्न व्यक्ति के चरित्र से उदासी और निराशा को ख़त्म कर देता है।
  • माणिक्य(ruby) रत्न इंसान को बुरी आत्माओं(Spirits) से बचाता है ।
  • माणिक्य(ruby) रत्न को पहनने वाले के मन में किसी भी चीज को ले कर जोश और उमंग बढ़ता है।
  • अगर किसी का आर्थिक स्थिति(financial condition) ख़राब चल रहा हो तो उसे भी माणिक्य(ruby) रत्न पहनने से फायदा होता है।
  • शादी सुदा जोड़े भी माणिक्य(ruby) रत्न को पहन सकते है इससे उनका शादी सुदा रिश्ता मजबूत होता है ।
  • माणिक्य रत्न(ruby stone) को पहनने से आंख और ह्रदय का रोग नहीं होता है ।

रूबी रत्न को कैसे धारण करे/ How to wear Ruby Stone

Rubi Ratna ko pahnane se pahle kuch jaruri bato ko dhayan mein rakhan chahaiye jo ki niche di gayi hai. This is important to know that who should wear the ruby stone, details are given below:

माणिक्य रत्न को सोने (gold) या पीतल(brass) के अंगूठी में पहनना चाहिए। माणिक्य(ruby) को रविवार यानि की sunday को सुबह सूर्य मंत्र पढ़ते हुए पहनना चाहिए । माणिक्य(ruby) रत्न को पहनने से पहले उसे अच्छे से दूध में धो लेना चाहिए। इसे किस उंगली में पहनना चाहिए इसके लिए किसी ज्योतिष की सलाह(advice) जरुर से ले लें ।

सावधानी / Precaution

माणिक्य(ruby) को नीलम(neelam) और गोमेद (gomed) के साथ पहनने से माना किया जाता है इससे नुकसान हो सकता है ।

5 thoughts on “Ruby Gemstone Facts and Benefits – माणिक रत्न

  1. denesh

    denesh on December 11, 1989 07:30 AM Kya main ruby dharan kar sakti hu.mughe mansik rog ha

    Reply
  2. VICKY JARAD

    क्या हम रुबि को चांदी की अंगूठी मे पहन सकते है?
    क्या चांदी मे पहन ने से कोई नुकसान हो सकता है?

    Reply
    1. Bhagat Post author

      प्रायः रूबी को सोने के अंगूठी में ही पहनना चाहिये

      Reply
  3. Priya

    Agar hamne manik ki ring ko ek bar pahan liya and phir use khol kar rakh diya ho to Kya hum us manik ke ring ko dubara pure vidhi vidhan ke sath pahan sakte h..please btaiye

    Reply
  4. Deepak

    Iske side effects bhi hai?

    Mera naak pehle chota tha fir bada hogaya

    Kya aisa isse hua?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *