Shukra Puja, Mantra, Shant Karne ke Upay – शुक्र ग्रह

By | May 21, 2016

Janiye ghar par Shukra Grah ki puja kaise kare, iska Mantra, iske remedies aur ise prabhav ko kam kaise kiya jaye. शुक्र ग्रह ke shanti ke upay, mahadasha ka ilaj. Venus जिसे शुक्र ग्रह कहते है। यह ग्रह अन्य सभी ग्रहों से ज्यादा चमकीला(Shiny) होता है।  इस ग्रह को  love, happiness, वाहन , संगीत , विवाह, आदि कई चीजो का प्रतीक कहा जाता है। यह ग्रह वृषभ (Taurus) और तुला (Libra) राशियों का स्वामी होता है। इस ग्रह की आकृति श्वेत वर्णी और 4 भुजाओं वाले  होते है। इनकी सवारी ऊंट, घोड़े या फिर मगरमच्छ होते है । इनके हांथो में दण्ड, कमल, माला और  तीर धनुष  रहता है। इस ग्रह के अधिदेव भगवान इंद्रा (Lord Indr)  होते है ।

Shukra Mantra and Upay

Shukra Grah ke Prabhav ke Lakshan / Symptoms of Shukra Grah

किसी भी मनुष्य के जन्म पत्री में अगर शुक्र ग्रह यानि की venus का bad effect होता है तो उसके life में भोग विलास की कमी आ सकती है। इस ग्रह के bad effect से मूत्र संबंधी problem, वाहन दुर्घटना (Vehicle Accident), विवाह संबंधित problem , त्वचा व नेत्र रोग, अपच, आदि कई सारे problems हो सकते है। शुक्र ग्रह (venus) के bad effect से बचने हेतु इसके mantra का chanting करना चाहिए। शुक्र mantra का chanting शुक्ल पक्ष के Friday से start करना चाहिए तथा इस mantra का chanting सूर्योदय के वक्त हीं करना चाहिए।

शुक्र मंत्र / Shukra Mantra

To agar aapka Shukra grah ka mahadasha chal raha ho ya phir agar aap Shukra ko majboot karne ka koi upay khoj rahe hai to aapko niche diye gaye  jankari ko dhyan se padhna chahaiye.  Niche diye gaye 4 tarah ke Sukra Mantra hai jise aap kabhi bhi jaap kar sakte hain. Bus dhyan rahe ki jaap (chant) kar rahe ho to us samaye aapka man isthir ho aur dhyan puja par laga rahe:

शुक्र का वैदिक मंत्र  –

।। ऊँ अन्नात्परिस्रुतो रसं ब्रह्मणा व्यपिबत क्षत्रं पय: सेमं प्रजापति: ।
ऋतेन सत्यमिन्दियं विपान ग्वं, शुक्रमन्धस इन्द्रस्येन्द्रियमिदं पयोय्मृतं मधु ।।        

नाम मंत्र  / Name Mantra

।। ऊँ शुं शुक्राय नम: ।। 

शुक्र के लिए तांत्रोक्त मंत्र 

Niche diye gaye  mantra mein (दुसरे नंबर वाले) Shukra beej mantra bhi hai :

।। ऊँ ह्रीं श्रीं शुक्राय नम: ।।

।। ऊँ द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम: ।। 

।। ऊँ वस्त्रं मे देहि शुक्राय स्वाहा ।।


शुक्र का पौराणिक मंत्र

।। ऊँ हिमकुन्दमृणालाभं दैत्यानां परमं गुरुम सर्वशास्त्रप्रवक्तारं भार्गवं प्रणमाम्यहम ।।

ऊपर दिए गए मंत्रो में से कोई भी एक मंत्र का जाप 10000, 11000 या फिर 16000 बार किया जा सकता  है । इन मंत्रो के अलावा और भी कई सारे उपाय यानि की remedies है जिसके द्वारा शुक्र के बुरे प्रभाव को कम किया जा सकता है ।

शुक्र ग्रह उपाय /Remedies for Shukra Grah

Waise to sabhi chij hamare Karma se juda hota hai, paratnu aap acche karma kar ke bhi kai tarah ki musibaton se bach sakte hain. To chaliye jante hai ki Shukra Grah ke remedies aur shant karne ke liye kya upay aur remedies hain:

  • मंदिरों (temples) में जाकर गाय के pure घी का दान करने से शुक्र का बुरा effect कम होता है ।
  • घर में या फिर कहीं और काली चींटियों (Black Ants) को गुड़ खिलाना चाहिए ।
  • White cow को Friday के दिन गेहूं का आटा (Wheat flour) खिलाना चाहिए।
  • शुक्र के दोष को कम करने हेतु पानी में बड़ी इलायची ( big Cardamom)  डालकर उसे boil लें, और फिर उस पानी को स्नान करने वाले पानी में mix कर के उस पानी से स्नान करे। इससे शुक्र के दोषों का नाश होता है ।
  • शुक्र ग्रह को कम करने के लिए Friday को fasting करे।
  • कोई भी sweets और चावल से बना खीर कौओं व गरीबों को खिलाएं ।
  • Friday को Brahmans और गरीब (poor people) लोगों को घी भात खिलाना चाहिए ।
  • शुक्र के effects को कम करने हेतु हर Friday को गाय के दूध से स्नान करना चाहिए ।

>> Shukra Grah ke prabhav ko kam karne ka mantra is prakar hai:

Note: शुक्र के bad effects को कम करने हेतु इस श्लोक का पाठ हर रोज करे :-

ऊँ जयन्ती मंगला काली भद्रकाली
दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा”।।

  • ऐसा व्यक्ति जो की आंख से काना हो उसे white कपड़े या फिर sweets दान में देना चाहिए ।
  • शुक्र ग्रह को शांत करने के लिए white horse का दान करना चाहिए।
  • श्रंगार वाली चीजो (cosmetic products) का दान करना चाहिए ।
  • ऐसी कुंवारी कन्या जो की दस साल से कम उम्र की हो उसे भोजन करना चाहिए और फिर उसके पैर छु कर उसका आशीर्वाद लेना चाहिए ।
  • किसी भी विवाह में अगर कन्यादान करने का chance मिल रहा हो तो उसे जरुर से अपनाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *