Soil Health Card Yojana detail in Hindi

By | August 9, 2017

Janiye Soil Health Card Yojana aur Scheme se judi jankari in Hindi. Is testing ke features aur benefits in detail ko padhe aur report dekhe online. भारत सरकार अपने किसान मित्रो तक कृषि के विभिन्न सुविधाओ को मुहैया कराने के लिए कई प्रकार के योजनाओ को आरम्भ किया है | इन सभी योजनाओ के अंतर्गत किसान को कई आवश्यकताओ की पूर्ति की जाती है जिसमे सहायता राशि, उपकरण, बीज, खाद एवं फसलो के नुकशान की भरपाई भी करती है | ऐसी योजनाओ में से एक योजना Soil health card scheme शामिल है | यह योजना किसानो के लिए काफी लाभकारी योजना है | आइए जानते है इस योजना से सम्बंधित महत्वपूर्ण बातो के बारे में |

Soil Health Card Scheme detail in Hindi

About Soil Health Card  Scheme

Soil health card scheme एक योजना है जिसे भारत सरकार के द्वारा February 2015 में शुरू किया गया | इस योजना के तहत सरकार किसान के खेत की मिट्टी का परिक्षण कर इसमे मौजूद आवश्यक पोषक तत्व की उपस्थिति के बारे में बताता है एवं मृदा स्वास्थ कार्ड बनाता है | सरकार के द्वारा शुरू किया गया मृदा स्वास्थ कार्ड योजना के तहत इनका यह लक्ष्य है की सरकार किसानों को मृदा कार्ड जारी करे जो कि व्यक्तिगत खेतों में लगाने वाले फसल के लिए जरूरी पोषक तत्वों और उर्वरकों की आवश्यकताओ को बताएगा जिससे किसान को मदद मिलेगा एवं इसके खेत में होने वाले उत्पादन में सुधार होगा |

सरकार इस योजना का आरम्भ किसनो के कम लागत पर अधिक एवं उच्च कोटि का फसल उत्पादन का लक्ष्य था जिसके अंतर्गत मृदा परीक्षण कर इसमे उपस्थित उर्वरकों के संतुलन को बनाए रखना जिससे कम लागत पर किसानों को उच्च पैदावार का एहसास मिल सके | सरकार के द्वारा बनाए जा रहे इस कार्ड में निम्न विवरण अंकित रहते है :-

  • मिट्टी का स्वास्थ या स्वभाव |
  • मिट्टी के कार्यात्मक विशेषता |
  • मिट्टी में उपस्थित पोषक तत्व एवं मिट्टी में पानी की मौजूदगी |
  • मिट्टी में मौजूद अतिरिक्त गुण |
  • सुधारात्मक उपाय जो किसान को मिट्टी में उपस्थित तत्वों की जानकारी देती है |

Soil Health Testing

Soil health कार्ड को बनने के लिए आपको आपने खेत के मिट्टी का परिक्षण कराना अति आवश्यक है | मिट्टी का परिक्षण करने के उपरांत इसका health card बनाया जा सकता है | खेत की मिट्टी का परिक्षण करने के लिए सरकार इस योजना के तहत सभी जिले में 100 करोड़ के लगत से प्रयोगशाला का निर्माण कराई है | आपके जिले में स्थित soil testing lab का पता लगाने के लिए आप http://soilhealth.dac.gov.in/PublicReports/STL पर देख सकते है | मिट्टी का परीक्षण करने के लिए आपको स्वयं अपने खेत के मिट्टी testing lab में देना होता है जहाँ testing के बाद एक परीक्षको के द्वारा soil health कार्ड दिया जाता है | इस कार्य के लिए सरकार को हमें Rs 190 देना पड़ता है |


Features of the Soil Health Card Scheme

मनुष्यों के बीच होने वाला किसी भी योजना का अपनी विशेषता होती है, उसी प्रकार सरकार के द्वारा चलाए जा रहे soil health card योजना के निम्न विशेषताए है :-

  • सरकार भारत का यह लक्ष्य है की वे इस योजना के तहत सभी किसानो को जोड़ सके एवं सभी के खेतो का health card बना सके |
  • यह योजना भारत की किसी विशेष राज्य में नही चलाया गया बल्कि इस योजना से पुरे देश के सभी किसानो को जोड़ने के प्रावधान है |
  • अगर किसान soil card बनाता है तो उस कार्ड में उसके खेत के मिट्टी का पूर्ण विवरण होता है जिसमे मिट्टी में मौजूद तत्वों को बताता है |
  • इस योजना के तहत खेत के मिट्टी का परिक्षण एक बार ही नहीं होता बल्कि हर 3 साल पर इसका testing होता है |

Benefits of Soil Health Card Scheme

किसी भी कार्य को करने से उसके कुछ लाभ मनुष्य को अवश्य मिलता है | सरकार के द्वारा चलाए गए इस योजना से लोगो को मिलने वाले लाभ निम्नलिखित है :-

  • इस योजना के तहत किसानों को अपने खेत की मिट्टी के स्वरूप का पता चलता है जिस कारण वह यह तय कर पता है कि किसान अपने खेत में किस फसल का खेती करे जिससे उसका नुकशान कम हो |
  • इस योजना के तह सरकार किसान के खेत की मिट्टी का परिक्षण हर 3 वर्ष पर करता है जिससे मिट्टी के स्वभाव का बदलाव का पता चलते रहता है जिससे किसान को फसल लगाने के लिए फसल का चयन करने में सहायता प्रदान होता है |
  • इस योजना के तहत सरकार मिट्टी की गुणवत्ता में सुधार के लिए आवश्यक उपायों को किसान से बताते रहता है जो सुधारात्मक उपाय करने में किसानों की मदद करता है |
  • मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना के लिए किसानों को उचित मिट्टी का स्वास्थ रिकॉर्ड मिलता है | इसके अलावा किसान मिट्टी प्रबंधन प्रथाओं का अध्ययन कर सकते हैं जिससे वे अपनी फसल और भूमि के भविष्य की योजना बना सकते हैं |
  • इस योजना के तहत मिट्टी का विश्लेषण एक ही व्यक्ति के द्वारा पूरा किया जाता है जो काफी प्रभावशाली शिद्ध होता है |
  • soil card किसानों को उचित विचार देता है की उसके मिट्टी में किस चीज की कमी है जो फसल के पैदावार को कम करेगा, वे यह भी बताएंगे कि किस उर्वरकों की जरूरत है जिससे फसल की पैदावार में वृद्धि होगी |

अगर आप इस योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप इसके official site http://soilhealth.dac.gov.in/ से जानकारी प्राप्त कर सकते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *