Sugar (Diabetes) ka Symptoms और Treatment – शुगर का इलाज

By | October 9, 2015

Sugar (मधुमेह) को Diabetes के नाम से भी जाना जाता है। ये एक ऐसी बीमारी है जो इंसान को बहुत हीं कमजोर बना देती है परन्तु Sugar ki bimari  ka ilaj समय रहते Symptoms को पहचान कर treatment किया जाये तो आसानी से काबू में पाया जा सकता है ।   इस रोग के होने पर हमारे शरीर में sugar की मात्रा बढ़ जाती है | डायबिटीज होने पर मरीज को दैनिक कार्यों  की जीवन में काफी चीजों का ख्याल रखना पड़ता है | Toilet (पेशाब) का बार बार लगना, भूख का बार बार लगना या फिर बार बार थकान महसुस होना ये सब diabetes(मधुमेह) के ही लक्षण है। अगर आप sugar के मरीज़ है तो आप को ज्यादा से ज्यादा पैदल चलने की कोशिश करनी चाहिए। Sugar के patient  को अपने sugar control में रखने के लिए कुछ चीजों का खास ख्याल रखना चाहिए जैसे की अपने खाने पिने का, regular दवाइयों का और इसके साथ ही साथ regular diabetes test करवाते रहना चाहिए।तो चलिए जानते है की sugar के patient कैसे इस पर control पा सकते हैं |Sugar ya Diabetes ka saral ilaj

मधुमेह के लक्षण  / Symptoms of Diabetes 

Madhumeh या sugar होने पर इसके lakshan को पकड़ना आसन है |  निचे दिए गए symptoms को देख कर diabetes को पकड़ा जा सकता है :

  • हाथ या पैर में झिनझिनहाट होना |
  • दैनिक चर्या में बार बार पेशाब लगना  |
  • पीड़ित व्यक्ति को जरुरत से ज्यादा प्यास लगना |
  • शरीर कमजोर लगना, थोड़ी सी भी काम करने से body pain होने लगना |
  • छोटी छोटी बातों को ले कर चिडचिडापन होना |
  • आँखों में कमजोरी आना और धुन्दला दिखना  |
  • मरीज को उलटी आना और पेट में बार बार दर्द रहना |
  • ध्यान केन्द्रित करने की छमता  में कमी  होना |

Sugar ka ilaj /  Diabetes Treatment

आंवला

sugar(मधुमेह) एक ऐसी बीमारी है जो किसी को एक बार हो जाये तो उससे छुटकारा पाना बहुत हीं मुश्किल होता जाता है। अतः आंवला का सेवन करना sugar patient के लिए बहुत हीं फायेदेमंद होता है। एक चम्मच आंवला के रस में थोड़ा सा करेले का रस मिला कर हर रोज कम से कम दो बार पिने से sugar की बीमारी जड़ से ख़त्म हो जाती है।

आम के पत्तें 

आम के पत्ते भी sugar के मरीज़ के लिए बहुत फायदेमंद होते है । इसे इस्तेमाल करने के लिए पहले आम के झड़े हुए पत्तों को इकठ्ठा कर लें। इकट्ठे किये हुए पत्तो को कुछ दिन तक छाव में हीं सूखने के लिए छोड़ दे। फिर उसे पिस कर उसका चूर्ण बना लें। फिर हर रोज सुबह, शाम आधा चम्मच चूर्ण को पानी के साथ लें। ऐसा regular करने से sugar control में रहता है।

जामुन

जामुन एक ऐसा फल है जिसके पत्ते, बिज और रस तीनो हीं sugar patient के लिए फायदेमंद होते है। इसके regular सेवन करने से sugar(मधुमेह) जड़ से ख़त्म हो जाते है। अगर आप जामुन के बिज को पिस कर उसके powder बना ले और फिर उस powder को दिन में दो बार एक चम्मच कर के दूध या फिर ठंडे पानी के साथ लेंगे तो आपको आराम मिलेगा।

Green Tea

ग्रीन टी में एंटीआक्सीडेंट्स की मात्रा अधिक पाई जाती है, जो हमारे शरीर को  स्‍वस्‍थ रखने में मदद करती है | ग्रीन टी के सेवन  खून की धमनियों (Blood vessels) को आराम पहुंचाता है, जिससे हाइ ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या में आराम मिलती हैं। नियमित सुबह-सुबह खाली पेट में green tee के सेवन से मधुमेह से बचा जा सकता है |

अगर आप हर रोज आधा कप ग्रीन-टी पिते है तो आपको डाइबिटीज की बीमारी में आराम मिलने के साथ  आपकी कोलेस्‍ट्रॉल की मात्रा भी कम होगी। एक साल तक लगातार ग्रीन टी का सेवन करने से आपको  डाइबिटीज और हाइपरटेंशन जैसे बिमारियों से छुटकारा मिल सकता है।

पनीर

जिस व्यक्ति को मधुमेह है उन्हें अपने Diet में कम से कम 100 ग्राम पनीर रोजाना खाना चाहिए | अगर आपको पनीर खाना पसंद नहीं है तो उसकी सब्जी बना कर खा सकते हैं |  और भी paneer ke benefits जानने के लिए यहाँ विस्तार में पढ़ सकते हैं |

दालचीनी

नियमित दालचीनी का इस्तेमाल करने से हमारे शरिर के Blood Sugar  नियंत्रित में रहता है और हमे मधुमेह से भी बचाता है | इसका उपयोग चाहे तो आप मसाले के रूप में भी आसानी से कर सकते हैं |

मेथी

मेथी में एमिनो एसिड, प्रोटीन, पोटेशियम, फाइबर के साथ साथ ही साथ Vitamin C की भी अच्छी मात्रा पाई जाती है। मेथी sugar patient के लिए बहुत फायदेमंद है क्योंकि ये ब्लड शुगर को control करने में मदद करती है। मैथी के दाने को पिस कर हर रोज एक बार आधा चम्मच खाना खाने के 20-25  मिनट  पहले लेने से sugar control में रहती है। जैसा की हम सब जानते है मेथी खाने में बहुत ही कड़वा लगता है, इसलिए आप चाहे तो इसकी लड्डू भी बना कर खा सकते है। तो आईये जानते है मेथी के लड्डू बनाने में क्या क्या सामग्री लगती है और इसे बनाने का तरीका क्या है :-

मेथी-50g, होल वीट फ्लाउर-250g , गोंद-1 बड़ा चम्मच , गुड़-200g, घी-1 बड़ा चम्मच (इसमें चीनी का इस्तेमाल ना करे) ।

विधि :-

  • पहले मेथी कम आंच पर सुनहरा होने तक भुन ले।
  • फिर घी में होल वीट फ्लाउर डालकर उसे भी सुनहरा होने तक भूनें।
  • घी में गोंद को डालकर तेज आंच पर पका कर ठंडा होने के लिए छोड़ दें।
  • उसके बाद भुने हुए मेथी, वीट फ्लाउर और गोंद में गुड़ मिलाकर 5 से 10 मिनट तक भून लें।
  • और फिर last में इस मिश्रण को अच्छे से पीस लें।
  • फिर इसके गोल गोल लड्डू बना ले।

अमरुद 

मधुमेह को control में रखने के लिए खान पान का खास ध्यान रखना पड़ता है। डॉक्टर के अनुसार sugar patient को ऐसा आहार लेना चाहिए जिसमे  vitamin-A और vitamin-C के  साथ फाइबर की मात्रा भी उपलब्ध हो। इसलिए sugar patient को अमरूद खाने की सलाह दी जाती है। डायबिटीज के patient को  एक पके हुये अमरूद को आग में पका कर फिर उसे छीलकर अच्छे से मैश करके  उसमें  थोड़ी सी मात्रा में नमक, जीरा, कालीमिर्च, मिलाकर खाएं, इससे फायदा होता है।

कम से कम 100g अमरूद के बीज निकाल कर उसे टुकड़ो में काट कर ठंडे पानी में 4 से 5  घंटे तक छोड़ दें। फिर अमरूद के टुकड़े को पानी से निकाल कर फेंक दें। इस पानी को  sugar (मधुमेह) के patient को पिलाने से फायदा होता है।

करेला

करेले का जूस भी sugar में फायदेमंद होता है। अगर आप एक दिन में कम से कम दो बार 25 ml कर के करेले के जूस का सेवन करते है तो आपको बहुत ही फायदा होगा । करेले के और फायदे के बारे में जानने के लिए यहाँ पर विस्तार में पढ़े |

4 thoughts on “Sugar (Diabetes) ka Symptoms और Treatment – शुगर का इलाज

  1. Manishyadav

    aapne kafi accha desi ilaj batlaya hai, thank you

    Reply
  2. SUNEEL YADAV

    sir pair me dard hota air sir baat ye hai gale me gilti air kahi to suger ki bimari nahi hai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *