भारत की खोज किसने और कब की – Who Discover India

By | February 2, 2018

क्या आपको मालूम है आखिर किसने सबसे पहले बार भारत की खोज की थी? वह और कोई नहीं बल्कि वास्को द गामा थे – जानिए उनकी भारत की यात्रा और कैसे उन्होंने India को discover किया था | वैसे तो पूरे विश्व में बहुत से देश है और हर एक देश की खोज किसी ना किसी द्वारा की है । विश्व के सभी देशो में एक देश हमारा भारत यानि की India भी आता है। भारत देश में रहने वाले और भारत को महान कहने वाले क्या आपको पता है की भारत की खोज किस शख्स ने की थी, उनका नाम क्या है और वे कहाँ के रहने वाले थे। यदि नहीं मालूम तो इस article को जरूर से पढ़े । इसमें हमने भारत की खोज किसने और कब किया है इसके बारे में बताया है । तो चलिए जानते है भारत देश की खोज किसने की है ।

Who Discover India first - Bharat ki khoj kisne ki thi



भारत की खोज पुर्तगाली अन्वेषक “Vasco Da Gama” द्वारा की गई थी जो की Europe के रहने वाले थे । Vasco Da Gama यूरोप से भारत की सफ़र करने वाले ships के commander थे । भारत  South Asia में स्थित Indian subcontinent का सबसे बड़ा Country है। भारत भौगोलिक दृष्टि से ये दुनिया का सातवाँ सबसे बड़ा और आबादी के दृष्टि से दूसरा सबसे बड़ा country कहलाता है। Vasco Da Gama को ईसाई धर्म का रक्षक भी माना जाता था।  तो चलिए जानते है कैसे Vasco Da Gama ने भारत की खोज की थी।

वास्को द गामा ने भारत की खोज कैसे की / How Vasco Da Gama Discover India

भारत यानि की India एक बहुत हीं पुराना देश है परन्तु दुनिया वालो को इस देश का पता 20 मई सन 1498 में Vasco Da Gama के जरिये पता चला था। चूँकि Vasco Da Gama पुर्तगाल (Europe) के एक साहसी नाविक थे इसलिए वे एक बार सन 1497 में अपनी समुद्री यात्रा करते हुए भारत के कालीकट बंदरगाह पर पहुंच गए। भारत की खोज करते समय Vasco Da Gama 3 बार भारत जा चूके थे । उनका भारत जाने का main मकसद था मसाले का व्यापार करना । वास्को डी गामा Cape of Good Hope, Southeastern corner of Africa से होते हुए India पहुंचे थे ।


Vasco da gama journey to India using map

कहते है की भारत की खोज के दवरान vasco Da Gama सबसे पहले South Africa पहुँच गए थे जहाँ उन्होंने कई सारे Indians को देखा था । उसके बाद हीं उन्हें लगा की भारत देश कुछ और आगे है। जब वे वहां से आगे बढ़े तो वे हिंद महासागर पहुंचे । यहाँ तक पहुँचते पहुँचते इनके पास खाने की कमी हो चुकी थी जिस कारण वे और उनके साथी बीमार होने लगे। अपने सभी साथियों को बचाने के लिए Vasco Da Gama मोजाम्बिक में रूक गए । मोजाम्बिक में रूकने के बाद वहां के  राजा को Vasco Da Gama ने कुछ भेंट दिए जिसे पा कर राजा खुश हुए और फिर भारत की खोज में उनकी help की ।

जब वे भारत पहुंचे तब उन्होंने भारत को देखा और फिर दुनिया वालो को इसकी information दी। सबसे पहले Vasco Da Gama समुन्द्र के रस्ते से दक्षिण भारत आये थे और दक्षिण भारत के जिस क्षेत्र में वो आये थे उसका नाम “केरला” था।

Birth and Education / जन्म और शिक्षा 

“Vasco Da Gama” का जन्म सन 1460 में पुर्तगाल में हुआ था। इनका घर Nossa Senhora das Salas के Church के पास था । कहा जाता है की Evora city से वास्को द गामा ने अपनी शिक्षा पूरी की और यहीं से उन्होंने गणित (Math) और नौवहन (Shipping) का ज्ञान प्राप्त किया था। 8 July 1497 को चार जहाज़ Lisbon से चले और तब से उसकी पहली भारत की सफ़र शुरु हो है गई ।

Death / मृत्यु

सन् 1524 में vasco da gama ने भारत की अंतिम यात्रा (last journey) की थी | India में आने के साथ ही उनको मलेरिया हो गया था और 03 months के बाद  24 December सन 1524 को कोच्ची में इनकी मौत हो गई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *